Header Ads

जिला कलक्टर ने किशनगढ़ विकास कार्यों की समीक्षा

अजमेर। देश की प्रसिद्ध मार्बल नगरी किशनगढ़ शीघ्र ही सौन्दर्यीकरण के नए कार्यों से चमकती दिखायी देगी। मार्बल नगरी का एयरपोर्ट शुरू होने से पहले ही 15 अक्टूबर तक यहां अप्रोच रोड का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। उदयपुर और अजमेर की तर्ज पर अब किशनगढ़ की प्रसिद्ध गुन्दोलाव झील भी चौपाटी की चमक से चमकेगी। चौपाटी निर्माण से शहर के लोगों को भ्रमण के लिए एक नया स्थान उपलब्ध हो जाएगा। शहर को खुले में शौच से मुक्त कराने के लिए किए जा रहे प्रयास और तेज होंगे। आगामी 15 दिनों में शहर को ओडीएफ घोषित करने के लिए नगर परिषद सहित सभी संबंधित विभाग, संस्थाएं और जनप्रतिनिधि मिलकर प्रयास करेंगे।

गोयल ने शुक्रवार को किशनगढ़ में उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर विकास कार्यों एंव फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने बस में बैठकर कर शहर के अन्दरूनी क्षेत्रों में भ्रमण कर समस्याएं जानीं। उन्होंने एयरपोर्ट अप्रोच रोड का कार्य 15 अक्टूबर से पूर्व पूर्ण करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग को निर्देश दिए।

उन्होंने नेशनल हाईवे अथाॅरिटी आॅफ इण्डिया एवं सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे इस कार्य में गति लाएं, अप्रोच रोड अच्छी बने। उन्होंने पुराने मिल चौराहे से अम्बेडकर सर्किल तक बनाए जाने वाले फोरलेन गौरव पथ निर्माण के कार्य की समीक्षा की। गोयल ने सड़क निर्माण में आ रही समस्याओं को तत्काल दूर करने के लिए संबंधित अधिकारियों को समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिए।

जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग को निर्देश दिए कि उदयपुर और अजमेर में झील के किनारे बनी चौपाटी की तर्ज पर किशनगढ़ में भी गुन्दोलाव तालाब के किनारे चैपाटी का निर्माण कराए जाने के लिए प्रस्ताव तैयार करें। इससे शहर के लोगों को घूमने के लिए एक नया पर्यटन स्थल उपलब्ध हो जाएगा। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे किशनगढ़ के प्रत्येक वार्ड को ओडीएफ घोषित करने के लिए प्रयास करें तथा आगामी 15 दिन में  ओडीएफ घोषित करवाएं।

जिला कलक्टर ने किशनगढ़ शहर में सफाई व्यवस्था तथा पानी, बिजली संबंधी व्यवस्थाओं को भी जाना तथा नगर परिषद को निर्देशित किया कि शहर स्वच्छ एवं सुन्दर बनाए रखने के यथा संभव प्रयास किए जाए। बैठक में अम्बेडकर चौराहे से सिलोरा की तरफ जाने वाले सड़क मार्ग में आ रही समस्याओं पर भी विचार विमर्श किया गया। बैठक में जिला कलक्टर ने अम्बेडकर सर्किल से राष्ट्रीय राजमार्ग तक की सड़क का निर्माण एडीए से कराने पर भी सहमति व्यक्त करते हुए इसके प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

बैठक में जिला कलक्टर ने किशनगढ़ की मुख्य सड़क लिंकरोड एवं मझेला रोड़ को नगर परिषद के आईडीएसएमटी फण्ड से बनाने के निर्देश दिए ताकि आमजन को राहत मिल सके। उन्होंने निर्देश दिए कि शहर में अमृत योजना के तहत सिवरेज लाइन डालने के कार्य चल रहा है। ऐसे में पानी एवं बिजली की लाइने साथ ही अन्डरग्राउंड हो जाए ताकि बार-बार सड़क की खुदाई ना हो।

बस में बैठकर किया शहर भ्रमण

जिला कलक्टर ने बैठक के पश्चात सभी अधिकारियों के साथ बस में बैठकर शहर का भ्रमण किया तथा चल रहे विकास कार्यों को देखा तथा आ रही समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को मौके पर ही निर्देश दिए। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग को टूटीफूटी सड़कों के पेचवर्क तत्काल करने के निर्देश दिए।

इस मौके पर किशनगढ़ के उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार, नगर परिषद के आयुक्त नारायण लाल मीना, सहित पुलिस, सार्वजनिक निर्माण विभाग, एनएचआई सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.