Header Ads

सीएम राजे ने वाल्मिकी और मुस्लिम समाज की महिलाओं को निवाला खिलाकर किया अन्नपूर्णा योजना का दूसरा चरण शुरू

ajmer, rajasthan, rajasthan cm, cm raje, vasundhara raje, Annapurna scheme, Annapurna scheme in ajmer, ajmer news, rajasthan news, vasundhara raje in ajmer
अजमेर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने विश्व खाद्य दिवस के मौके पर सोमवार को गरीबों और जरूरतमंदों को सस्ता भोजन उपलब्ध कराने के लिए अन्नपूर्णा रसोई योजना के दूसरे चरण की अजमेर से शुरूआत की। उन्होंने अजमेर के विजयलक्ष्मी पार्क में वाल्मिकी एवं मुस्लिम समाज की महिलाओं को अपने हाथ से निवाला खिलाकर इस योजना का श्रीगणेश किया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 51 स्मार्ट मोबाइल वैनों को हरी झंडी दिखाकर उन्हें विभिन्न शहरों के लिए रवाना किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी 13 दिसम्बर तक प्रदेश के सभी 191 स्थानीय निकायों में 500 स्मार्ट मोबाइल वैनों के माध्यम से मात्र 5 रुपये में नाश्ता तथा मात्र 8 रुपये में दोपहर व रात्रि का भोजन उपलब्ध कराया जायेगा।

उन्होंने कहा कि अब तक इस योजना में साधारण रसोई वैन के माध्यम से नाश्ता एवं भोजन वितरित किया जा रहा था, लेकिन अब स्मार्ट रसोई वैन से भोजन वितरित होगा। उन्होंने कहा कि सभी जरूरतमंदों को पौष्टिक एवं सस्ता भोजन उपलब्ध कराने की देश की इस पहली और अनूठी योजना को हरियाणा, मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र और कर्नाटक जैसे राज्य भी लागू कर रहे हैं।

वितरण से फीडबैक तक की जानकारी आॅनलाइन :

मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्नपूर्णा रसोई योजना में स्मार्ट किचन स्थापित की जा रही हैं। जहां अधिकतर काम मशीनों के सहयोग से किया जाता है ताकि भोजन की शुद्धता एवं गुणवत्ता बेहतर बनी रहे। अब भोजन बनाने और वितरित करने की जानकारी के साथ लाभार्थी के फीडबैक तक सम्पूर्ण प्रक्रिया आॅनलाइन कर दी गई है। इस मोबाइल वैन से भोजन करने वाला व्यक्ति किसी भी समय वैन पर मौजूद वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिये खाने की क्वालिटी, वजन तथा अन्य सुविधाओं के बारे में फीडबैक सीधे दे सकेगा। मोबाइल वैन को जीपीएस सिस्टम से जोड़ा गया है, जिससे कि उसकी रीयल टाइम लोकेशन पता चल सके।

भावुक हुईं वाल्मिकी और मुस्लिम महिलाएं :
राजे ने स्मार्ट रसोई वैनों को रवाना करने से पहले आनासागर में हरिजन बस्ती की लक्ष्मी, सुनीता, आनासागर घाटी की गीता, मुड़ा माॅर्केट की राधा, डीआरएम के पीछे रहने वाली तब्बसुम तथा गुलाबबाड़ी एकता नगर की रेशमा के साथ अन्नपूर्णा रसोई की टेबल पर भोजन किया तो इन महिलाओं की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मुख्यमंत्री ने इन महिलाओं के मुंह में अपने हाथ से निवाला दिया तो ये महिलाएं भावुक हो गईं।

गौतम के प्रयास को सराहा :
मुख्यमंत्री ने संसदीय सचिव शत्रुघ्न गौतम के प्रयास को मंच से सराहा। उन्होंने कहा कि संसदीय सचिव गौत्तम ने केकड़ी में दो वाहन लोगों के बचे हुए भोजन को घर-घर जाकर इकठ्ठा करने के लिए लगा रखे हैं। ये भोजन इन वाहनों के माध्यम से गौशालाओं में पहुंचता है, जहां गायें इन्हें खाती हैं। यह एक अनूठी पहल है। मुख्यमंत्री ने गौतम द्वारा केकड़ी में दो चलती-फिरती प्याऊ के माध्यम से लोगों को ठण्डा पानी पिलाने के लिए की गई व्यवस्था को भी अनुकरणीय बताया।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.