Header Ads

अजमेर में बनेंगे मोजरेला चीज, पनीर और फ्लेवर्ड मिल्क

अजमेर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि हमारी सरकार प्रदेश के दुग्ध उत्पादकों एवं पशुपालकों की आमदनी बढ़ाकर उनको समृद्ध एवं खुशहाल बनाने के लिए पूरी गम्भीरता से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हम प्रदेश के डेयरी उद्योग को विकसित कर इसे नयी ऊंचाईयां प्रदान करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि मिल्क यूनियनों को सशक्त करने के लिए सरकार 100 करोड़ रुपए का फण्ड बनाएगी। इससे दुग्ध उत्पादकों को दूध का प्रतिस्पर्धी मूल्य मिलेगा और अधिक दूध संग्रहण हो सकेगा, साथ ही आम आदमी को उचित मूल्य पर अच्छी गुणवत्ता का दूध मिल सकेगा। इस फण्ड से प्रदेश के 9 लाख दुग्ध उत्पादकों को सीधा लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री सोमवार को अजमेर के पटेल मैदान में अजमेर जिले को 356 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात देने के बाद जनसभा को संबोधित कर रही थी। उन्होंने 252 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले अजमेर डेयरी के दुग्ध प्रसंस्करण एवं पाउडर प्लांट एवं 7 करोड़ 62 लाख रुपए की लागत के अशोक उद्यान से एमडीएस तिराहे तक सड़क चौड़ाईकरण व डिवाइडर निर्माण कार्य का शिलान्यास किया।

अजमेर जिले में 6 हजार 330 करोड़ के विकास कार्य
राजे ने 40 करोड़ रुपए की लागत से बने अभय कमाण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का शुभारम्भ किया। उन्होंने 57 करोड़ रुपए की लागत से तैयार होने वाली अजमेर विकास प्राधिकरण की योजना विजयाराजे सिन्धिया नगर का शुभारंभ भी किया। उन्होंने कहा कि इसके अलावा किशनगढ़ से गुजरात बोर्डर तक 4 लेन के राष्ट्रीय राजमार्ग को 6 लेन में बदलने का काम भी साढ़े 4 हजार करोड़ की लागत से होगा। उन्होंने कहा कि अजमेर जिले में हमारी सरकार ने पिछले साढ़े तीन वर्षों में 6 हजार 330 करोड़ रुपये के विकास कार्य स्वीकृत किये हैं।

किशनगढ़ से ट्रायल फ्लाइट आज
मुख्यमंत्री ने कहा कि किशनगढ़ में जो एयरपोर्ट 5 साल पहले बन जाना चाहिए था, उसे हमने पूरा किया। अब 24 अक्टूबर को दिल्ली से ट्रायल फ्लाइट किशनगढ़ पहुंचेगी और बहुत शीघ्र फ्लाईट का नियमित संचालन शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुष्कर में ब्रह्मा मंदिर के परिसर का विकास कार्य कर इसे सुन्दर, आकर्षक और श्रद्धालुओं की दृृष्टि से सभी सुविधा युक्त बनाया जाएगा।

भीलवाड़ा में बनेगी चॉकलेट और बीकानेर में चीज
राजे ने कहा कि हमारे प्रयासों से आज दूध उत्पादन में हमारा प्रदेश देश का अग्रणी राज्य बन गया है। हमारा सरस भी आज शुद्धता और गुणवत्ता का प्रतीक ब्रांड बन चुका है। उन्होंने कहा कि जल्द ही भीलवाड़ा में चॉकलेट, बीकानेर में चीज और पाली में कैटलफीड (पशुआहार) का उत्पादन शुरू किया जाएगा।

10 लाख लीटर क्षमता का होगा नया प्लांट
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस नये प्लांट के धरातल पर आ जाने से अजमेर के पशुपालको को बहुत बड़ा लाभ मिलेगा। यहां 10 लाख लीटर दूध का संकलन और 30 मीट्रिक टन दूध पाउडर का प्रतिदिन उत्पादन होगा। यहां प्रतिदिन 4 लाख लीटर दूध की पैकिंग भी होगी। मोजरेला चीज़, पनीर, फ्लेवर्ड मिल्क, नये स्वाद का मक्खन सहित अन्य उत्पाद भी यहां बनाए जाएंगे।

हर जिले में खुलेगी नंदी शाला
राजे ने कहा कि किसान और पशुपालक हमारे प्रदेश की ताकत हैं, उनकी परेशानी हमारी परेशानी है। इसी भावना को ध्यान में रखते हुए प्रदेश के हर जिले में एक-एक नंदी शाला शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसानों एवं पशुपालकों को सम्पन्न और खुशहाल बनाने के लिए हमारी सरकार ने कई योजनाएं लागू की हैं। भामाशाह पशुधन बीमा योजना में एससी/एसटी और बीपीएल पशुपालकों को प्रीमियम राशि का 70 तथा अन्य पशुपालकों को 50 अनुदान सरकार की  रूप से सशक्त बने इसके लिए हमने जयपुर और कोटा में ‘ग्राम’ का आयोजन किया। ‘ग्राम’ का अगला आयोजन उदयपुर में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज फैड की ओर से मूंग, उड़द और सोयाबीन की समर्थन मूल्य पर खरीद 2 अक्टूबर से शुरू कर दी गई है।

हमने दिया 57 हजार करोड़ का ब्याज मुक्त फसली ऋण
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने साढ़े 3 साल में किसानों को बिना ब्याज करीब 57 हजार करोड़ रुपये का फसली ऋण दिया है। जबकि कांग्रेस सरकार ने अपने पूरे कार्यकाल में 25 हजार करोड़ का ही ऋण दिया था। उन्होंने कहा कि हमने अजमेर संसदीय क्षेत्र में अब तक 2065 करोड़ रुपए से अधिक का सहकारी फसली ऋण दिया है। वर्ष 2018 तक प्रदेश में ब्याज मुक्त फसली ऋण का आंकड़ा 75 हजार करोड़ रुपए हो जाएगा।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.