मन की संतुष्टि ही सबसे बड़ा उपहार : गांधी - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

मन की संतुष्टि ही सबसे बड़ा उपहार : गांधी

अजमेर। घर से उपेक्षित वृद्धजनो एवम असक्त व्यक्तियों की सेवा करने के उपरांत हमे जो दुआएं एवम आशीर्वाद मिलता है , वही हमारे लिए सबसे बड़ा उपहार है । मन की संतुष्टि का कोई मूल्यांकन नहीं है। उक्त उद्धगार लॉयनेस क्लब की प्रान्तीय अध्यक्ष लायन आभा गांधी ने लोहागल रोड स्थित अपना घर मे लॉयनेस सदस्यो के साथ बुजुर्गों के साथ सेवा कार्य के दौरान कहे। अजमेर की समस्त लॉयनेस क्लब के पदाधिकारियो एवम सदस्यों द्वारा प्रान्तीय अध्यक्ष लायन आभा गांधी के नेतृत्व में अपना घर मे रहवासियो के साथ समय व्यतीत कर उन्हें अपनत्व का अहसास कराया। उनकी कुशल क्षेम पूछ कर समाज की मुख्य धारा में जोड़ने का एक छोटा सा प्रयास किया। उनके मान सम्मान का ख्याल रखते हुए उनके दुख सुख के भागीदार बन कर मनोरंजन किया।

कार्यक्रम संयोजक सीमा शर्मा ने बताया कि इस अवसर पर पूर्व बहुप्रान्तीय अध्यक्ष एवम प्रान्तीय प्रमुख संरक्षक दिवगंत लॉयनेस ललिता दवे की आत्म शांति हेतु लोहागल स्थित अपना घर मे पूर्व प्रान्तपाल लायन ओ.एल दवे की ओर से आवासियों को शाम का पक्का भोजन भी कराया गया। इस अवसर पर गौरव दवे, सोमरत्न आर्य, ललिता सेठी, वीना तोलानी, चंदा राठौड़, राजकुमारी पांडे, तरुण दवे, जाग्रति केवलरामनी, प्रतिभा विस्वा, प्रांतीय कोषाध्यक्ष नयना सिंह सहित अन्य लोग मौजूद थे ।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.