Header Ads

अजमेर उत्तर में हुए 156 करोड़ के विद्युत संबंधी कार्य : देवनानी

अजमेर। शिक्षा राज्यमंत्र वासुदेव देवनानी ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार शहरों एवं गांवों में विद्युत तंत्र को सुधारने तथा उपभोक्ताओं तक बेहतरीन सेवा उपलब्ध कराने के लिए पूरे प्रसार तंत्र को सशक्त करने की दिशा में काम कर रही है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में सिर्फ अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र में ही 156 करोड़ रूपए बिजली के क्षेत्र में खर्च किए गए हैैं। पंचशील में बनने वाले इन 2 नए जीएसएस से क्षेत्र के करीब 50 हजार उपभोक्ताओं को फायदा होगा।

शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने आज गणेश गुवाड़ी, पंचशील क्षेत्र में अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा इंटीग्रेटेड पावर डवलपमेंट योजना के तहत 7 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले 2 नए जीएसएस के कार्यों का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्रीमती राजे चाहती हैं कि शहरी और ग्रामीण उपभोक्ताओं को पूरी बिजली पूरी गुणवत्ता के साथ उपलब्ध हो। इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए राज्य व केन्द्र की विभिन्न योजनाओं के तहत विद्युत तंत्र सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित होने जा रहे अजमेर में विद्युत संबंधी विकास कार्यों में विशेष रूचि दिखाकर कार्य किए गए है। विभिन्न स्थानों पर सड़कों के ऊपर से बिजली के तारों का जाल हटाकर भूमिगत केबल डाली गई है। अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र में पिछले पौने चार साल में 156 करोड़ के विद्युत संबंधी कार्य करवाए गए हैं। शहर का कोई ऎसा कोना नहीं है जो विद्युत सुधार से अछूता हो। इस कार्य पर और भी करोड़ों रूपए खर्च किए जाएंगे।

देवनानी ने कहा कि इंटीग्रेटेड पावर डवलपमेंट योजना के तहत 7 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले 2 नए जीएसएस से गणेश गुवाड़ी, माकड़वाली, पंचशील ए ब्लॉक, ई ब्लॉक, केरियों की ढाणी, भैरूबाड़ा, विशाल नगर, लोहागल, बीएसयूपी क्वार्टर, देवनगर, हनुमान नगर सहित आसपास के क्षेत्रों को फायदा मिलेगा। करीब 50 हजार विद्युत उपभोक्ता इस योजना के तहत लाभान्वित होंगे।

इस अवसर पर महापौर धर्मेन्द्र गहलोत, अध्यक्ष अरविंद यादव, पार्षद प्रकाश मेहरा, धर्मेन्द्र चौहान पस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.