Header Ads

स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा अहम, सरकार ने किए कई उपाय : देवनानी

अजमेर । शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि स्कूलों में विद्यार्थियाें की सुरक्षा एक अहम विषय है। इसमें विद्यार्थी, शिक्षक, अभिभावक एवं शिक्षा विभाग को शैक्षिक परिवार के रूप में काम करना होगा। जिस तरह एक परिवार में सभी एक दूसरे का एवं उनकी जिम्मेदारियों में सहयोग करते हैं। उसी तरह हमे भी इस दिशा में काम करना होगा। राज्य सरकार ने बाल वाहिनी सहित कई अन्य उपायों से विद्यार्थियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया है।

देवनानी ने आज राजकीय माध्यमिक विद्यालय लोहागल में राजस्थान पुरस्कृत शिक्षक फोरम के प्रदेश स्तरीय अधिवेशन को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश में प्राचीनकाल से शिक्षा एक परिवार की तरह आगे बढ़ी है। प्राचीन गुरूकुलों में भी विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए विभिन्न स्तरों पर प्रबन्ध किए जाते थे। उसी तरह वर्तमान में भी हमें शिक्षा को आगे बढ़ाना होगा।

उन्होंने कहा कि राज्य में विद्यार्थियों की सुरक्षा के लिए बालवाहिनी सहित कई योजनाओं के जरिए काम किया जा रहा है। लेकिन हमें इस दिशा में साझा प्रयासों की जरूरत है। शिक्षक, विद्यार्थी,  अभिभावक एवं शिक्षा विभाग मिलकर कार्य करें। माता-पिता भी प्रतिदिन बच्चों को स्कूल तक लाने व लेजाने के लिए सुरक्षित वाहनों पर ही भरोसा करें। स्कूल प्रशासन नियमित रूप से राउंड लेकर व्यवस्थाओं को जांचे तथा विद्यार्थी भी अपनी जिम्मेदारी को अनुशासित रूप से निभाएं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की सकारात्मक सोच  तथा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में प्रदेश की शिक्षा नित नए सोपान तय कर रही है। राज्य सरकार और शिक्षकों के साझा प्रयास अब रंग ला रहे हैं। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परिणामों में 16.5 प्रतिशत की वृद्धि शिक्षा के सकारात्मक परिवर्तन को दर्शाती है। हमारे शिक्षक उच्च योग्यताधारी और अनुभवी हैं। ऎसे शिक्षकों के सहयोग से ही हम निरंतर प्रगति कर रहे हैं। प्रदेश का विद्यार्थी हर विषय में देश में शानदार परिणाम हासिल कर रहा है।

कार्यक्रम में राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष बी.एल. चौधरी तथा फोरम के अध्यक्ष रामेश्वर प्रसाद शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शारीरिक शिक्षक शक्ति सिंह गौड सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए पुरस्कृत शिक्षक उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.