Header Ads

दूसरी तिमाही में रिलायंस के मुनाफे में 12.5% इजाफा, जियो को 6,147 करोड़ की आय

रिलायन्स इण्डस्ट्रीज, जिओ, मुकेश अंबानी, Mumbai, RIL, Reliance Industry Limited, Alok Agarwal, RIL CFO, Chief Financial Officer of RIL, Jio, Reliance Jio, reliance, mukesh ambani, reliance industries, ril, india, reliance jio, nita ambani, stock, mukesh ambani
मुंबई। मार्केट वैल्यू के लिहाज से देश की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शुक्रवार को दूसरी तिमाही के आंकडे़ जारी किए। रिलायंस इंडस्ट्रीज को 30 सितंबर को समाप्त हुई दूसरी तिमाही में 12.5% लाभ हुआ है। इसके साथ ही कंपनी का कंसॉलिडेटेड नेट प्रॉफिट बढ़कर 8,097 करोड़ रुपये हो गया है। गौरतलब है कि पिछले साल इसी अवधि में कंपनी का नेट प्रॉफिट 7,179 करोड़ रुपये रहा था।

वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी रिलायंस जियो ने 2017-18 की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) में संचालन से 6,147 करोड़ रुपए की सकल आय प्राप्त होने की घोषणा की है। कंपनी ने दूसरी तिमाही के परिणामों की घोषणा शुक्रवार को की। 30 सितंबर 2017 तक कंपनी का ग्राहक आधार 138.6 मिलियन था। तिमाही के दौरान कंपनी ने कुल 15.3 मिलियन ग्राहकों को अपने नेटवर्क में जोड़ा है। कंपनी द्वारा जारी बयान के अनुसार तिमाही के दौरान कुल वायरलेस डाटा ट्रैफिक 378 करोड़ जीबी और तिमाही के दौरान औसत वॉयस ट्रैफिक 267 करोड़ मिनट प्रति दिन था।


नतीजों पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने प्रसन्नता जाहिर की है। उन्होंने कहा कि हमारी कंपनी ने एक और तिमाही में शानदार प्रदर्शन किया है। मुझे यह जानकारी देने में खुशी हो रही है कि इसमें रिलायंस जियो का वित्तीय प्रदर्शन भी शामिल है, जिसका कॉमर्शियल ऑपरेशंस की अपनी पहली तिमाही में EBIT कंट्रीब्यूशन सकारात्मक रहा है।

मुकेश अंबानी ने कहा कि, 'आज दुनिया लगातार बदल रही है और हर कोई डिजीटल हो रहा है। इस क्रम में भारत भी किसी से पीछे नहीं रह सकता है। भारत डिजिटल होने के लिए तैयार है और ये अब वॉयस से डेटा की ओर तेज गति के साथ बढ़ रहा है। इस कड़ी में जियो अगली पीढ़ी के कारोबार के लिए डेटा का आधार तैयार कर रहा है। जिस तरह से जियो सर्विसेज को तेजी से अपनाया जा रहा है, उससे समाज की जरूरतों का स्पष्ट संकेत मिलता है।


उन्होंने कहा कि हम आश्वस्त हैं कि जियो भारतीय अर्थव्यवस्था और भारतीय ग्राहकों को महत्वपूर्ण लाभ प्रदान करेंगी और भारत को एक उच्च स्तर पर ले जाएगी। हम बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के लिए बहु-स्तरीय डिजिटल सेवाएं उपलब्ध कराने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं, ताकि हमारे विश्व के बेहतरीन इंफ्रास्ट्रक्चर का अत्यधिक उपयोग किया जा सके।

अंबानी ने कहा कि जियो के मजबूत वित्तीय परिणाम जियो के मजबूत व्यापार मॉडल को दर्शाते हैं और कंपनी ने   नई 4जी तकनीक में अपने निवेश के माध्यम से तैयार नेटवर्क में महत्वपूर्ण कुशलता प्राप्त की है। साथ ही कारोबारी रणनीति भी बनाई है। हमेशा की तरह, समूह ने कार्य संचालन में सर्वश्रेष्ठता, दूरदृष्टि और कारोबारी उत्कृष्टता का प्रदर्शन किया है।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.