एलिवेटेड रोड का काम ऎतिहासिक, शहर को मिलेगी ट्रेफिक जाम से मुक्ति : देवनानी - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

एलिवेटेड रोड का काम ऎतिहासिक, शहर को मिलेगी ट्रेफिक जाम से मुक्ति : देवनानी

अजमेर। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र में पिछले चार साल में 800 करोड़ रूपए के विकास कार्य करवाए गए है। करीब 252 करोड़ रूपए की लागत से बनने जा रहा एलिवेटेड रोड एक ऎतिहासिक शुरूआत है। इससे शहर को ट्रेफिक जाम से मुक्ति मिल जाएगी। अजमेर शहर को 1947 करोड़ रूपए की स्मार्ट सिटी योजना के काम होने के पश्चात नए पंख लग जाएंगे। योजना के तहत काम शुरू कर दिया गया है।
   
देवनानी ने आज चार साल के कार्यकाल की उपलब्धियों को लेकर संवाददाताओं से बातचीत की। उन्होंने अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्र में चार साल में हुई प्रगति की जानकारी देते हुए  कहा कि जिले में एलीवेटेड रोड़ की आवश्यकता काफी समय से महसूस की जा रही थी जिसका कार्य शीघ्र प्रारंभ हो जायेगा। इससे यातायात समस्या का समाधान होगा। इस रोड़ पर 252 करोड़ रूपये व्यय होगे।  इसके साथ ही जिले में एयरपोर्ट की आवश्यकता भी थी वह भी अब पूरी हो गयी। जिले के किशनगढ में हवाई अड्डा प्रारंभ हो चुका है। इस पर भी 161 करोड़ की लागत प्रथम चरण में व्यय हुए है।
   
उन्होंने बताया कि माकड़वाली में विवेकानंद मॉडल स्कूल का निर्माण होकर सत्र 2017-18 में विधिवत संचालन प्रारंभ हो गया है। इस पर लगभग 7 करोड़ रूपये की लागत आयी है। इसी प्रकार  आनासागर झील पर पाथ वे  निर्माण कार्य तीन चरणों में बनाया जा रहा है। 27 करोड़ की लागत से आनासागर झील के चारों ओर आकर्षक पाथ वे का निर्माण प्रगति पर है। रीजनल तिराहे व सागर विहार कॉलोनी के पीछे बने पाथ वे आज शहरवासियों के आकर्षण का प्रमुख केन्द्र है। लवकुश उद्यान से बारादरी होते हुए जी मॉल तक निर्माण कार्य प्रगति पर है तथा रीजनल तिराहे से महावीर कॉलोनी तक का निर्माण प्रक्रियाधीन है। उन्होंने बताया कि खेल प्रतिभाओं के लिए 01 करोड़ की लागत से इण्डोर खेल स्टेडियम का निर्माण भी प्रगति पर है।
   
शिक्षा राज्य मंत्री ने बताया कि स्मार्ट सिटी के तहत 1947 करोड़ की योजना स्वीकृत हुयी है। जिसमें लगभग 400 करोड़ के कार्य प्रक्रियाधीन है। हृदय योजना में 40 करोड़ की लागत से सुभाष उद्यान, हेरिटेज वॉक वे, जयपुर रोड़ सौन्दर्यकरण कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार अमृत योजना में 32 करोड़ की लागत से पेयजल व्यवस्था सुधार संबंधी कार्य प्रगति पर है। प्रसाद योजना में दरगाह क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने बताया कि पुष्कर घाटी में पर्यटन केन्द्र के रूप में महाराणा प्रताप स्मारक का निर्माण करवाया गया है जिस पर  6 करोड़ की राशि व्यय हुयी।

पुस्तिका का हुआ विमोचन
इस मौके पर वासुदेव देवनानी द्वारा अजमेर उत्तर क्षेत्र में गत चार वर्षों के दौरान हुए विकास कार्यों पर आधारित पुस्तिका ‘हर कदम विश्वास का - बढ़ते विश्वास का’ विमोचन भी किया गया। इस मौके पर अध्यक्ष अरविंद यादव भी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.