मतदान केंद्र के 200 मीटर की परिधि में नहीं होगा प्रचार - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

मतदान केंद्र के 200 मीटर की परिधि में नहीं होगा प्रचार

अजमेर। अजमेर लोकसभा क्षेत्र में आगामी 29 जनवरी को होने वाले उपचुनाव के लिए नियुक्त पीठासीन अधिकारी एवं प्रथम मतदान अधिकारियों का प्रशिक्षण आज आयोजित किया गया। मतदान अधिकारियों को उनकी भूमिका, ईवीएम व वीवीपेट के प्रयोग का पूर्वाभ्यास, ईवीएम मशीन की जांच, बीयू, सीयू सहित आदर्श आचार संहिता की पालना सहित अन्य जानकारियां दी गई।
 
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के जयपुर रोड एवं जवाहर स्कूल के सामने स्थित सभागारों में पीठासीन अधिकारी एवं प्रथम मतदान अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण प्रभारी भगवत सिंह राठौड़ ने अधिकारियों को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मतदान दल यह सुनिश्चित कर लें कि उनके मतदान केन्द्र पर निर्वाचक नामावली की तीन प्रतियां हो। वे उसी निर्वाचन क्षेत्र के भाग की हो जिसके लिए मतदान केन्द्र स्थापित किया गया हो। अनुपूरक सूचियों के अनुसार सभी प्रतियों में से नाम काट दिए गए हो। सभी नामावलियों के पृष्ठ एक से क्रमांकित हो। टेण्डर वोट भी उसी निर्वाचन क्षेत्र के लिए हो।
 
उन्होंने बताया कि चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों और उनके निर्वाचन अभिकर्ताओं के हस्ताक्षर के नमूने की फोटो प्रतियां भी अधिकारियों को दी गई हैं। मतदान दल अन्य महत्वपूर्ण सामग्री जैसे अमिट स्याही, स्टाम्प पैड, स्पेशल टेग, ग्रीन पेपर सील, स्टि्रप सील आदि की भी जांच कर लें। मतदान केन्द्र की परिधि से 200 मीटर तक का क्षेत्र पीठासीन अधिकारी के नियंत्रण में है। इस परिधि के भीतर की सुरक्षा पुलिस करेगी। इस परिधि में राजनैतिक दलों के प्रचार पोस्टर अगर हों तो उन्हें हटवाएं। पीठासीन अधिकारी मतदान केंद्र पर अपने दल के साथ मतदान प्रारंभ होने के लिए निर्धारित समय से कम से कम 75 मिनट पूर्व पहुंचेंगे।


 उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी मतदान केन्द्र पर पहुंचकर मतदान के लिए प्रस्तावित भवन का निरीक्षण करेंगे तथा मॉडल मतदान केन्द्र के लेआउट के अनुसार मतदान केन्द्र की स्थापना करेंगे। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरूण गर्ग एवं स्थानीय निकाय विभाग के उपनिदेशक किशोर कुमार ने भी प्रशिक्षण का अवलोकन किया।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.