शेख हसीना ने की अजमेर दरगाह जियारत, राजस्थानी परम्परानुसार हुआ स्वागत - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

शेख हसीना ने की अजमेर दरगाह जियारत, राजस्थानी परम्परानुसार हुआ स्वागत

Ajmer, Rajasthan, bangladesh pm, Sheikh Hasina, Ajmer Dargah, Dargah Sharif, Khwaja Gareeb nawaj
अजमेर। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने आज प्रसिद्ध सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में माथा टेका। उन्होंने भारत बांग्लादेश के संबंधों में प्रगाढ़ता एवं अमन-चैन की दुआ मांगी। उनका अजमेर पहुंचने पर राजस्थानी परम्परा के अनुसार ढोल नगाड़ों के साथ स्वागत किया गया। दरगाह में भी उनका रेड कारपेट बिछाकर अभिनन्दन किया गया।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना अपने प्रतिनिधि दल के साथ आज प्रातः अजमेर पहुंची । उन्होंने सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में माथा टेका एवं चादर पेश की। उन्होंने अमन-चैन व दोनों देशों के संबंधों में मजबूती की दुआ मांगी। उनके साथ आए प्रतिनिधि मण्डल ने भी मजार शरीफ पर अकीदत के फूल पेश किए।

ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में भी बांग्लादेश की प्रधानमंत्री का दरगाह की परम्परा के अनुसार स्वागत किया गया। उनके आने से पहले पूरे दरगाह परिसर को खाली कराया गया। उनके स्वागत में मुख्य द्वार पर रेड कारपेट बिछाया गया। दरगाह के मुख्य द्वार पर दरगाह दीवान जैनुअल आबेदीन, दरगाह नाजिम कर्नल मंसूर अली खान, सहायक नाजिम मोहम्मद आदिल, अंजुमन के पदाधिकारी प्रतिनिधि एवं खादिम कलीमुद्दीन चिश्ती सहित अन्य खादिमों ने उनका इस्तकबाल किया। दरगाह की ओर से उन्हें प्रतीक चिन्ह भी भेंट किया गया। अंजुमन कमेटी द्वारा भी सम्मान पत्र पढ़कर सुनाया तथा उन्हे भेंट किया।

Ajmer, Rajasthan, bangladesh pm, Sheikh Hasina, Ajmer Dargah, Dargah Sharif, Khwaja Gareeb nawaj
बांग्ला भाषा में लिखा संदेश :
बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने अंजुमन की विजिट बुक में बांग्ला भाषा में अपना संदेश लिखा, 'यह अल्लाह के वली का दरबार है। यहां आने से रूहानी फैहज मिलता है। दिल को सुकून मिलता है। यहां जो भी आता है, अपनी मुरादें पाता है। इनके दरबार में आने से अल्लाहताला हम सभी की दुआएं कबूल करता है।'
परम्परागत तरीके से गाजे-बाजे के साथ हुआ स्वागत 
बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना का अजमेर पहुंचने पर हेलीपेड पर राजस्थानी परम्परा के साथ स्वागत किया गया। संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीना एवं महानिरीक्षक पुलिस अजमेर रेंज मालिनी अग्रवाल ने उनकी अगवानी की। उनके स्वागत में सोहनलाल भाट एवं उनके दल ने कच्छी घोड़ी एवं कालबेलियां लोक नृत्य की पारम्परिक प्रस्तुति दी। इस प्रस्तुति से अभिभूत होकर प्रधानमंत्राी शेख हसीना ने लोक कलाकारों को रोककर उनके बीच में गई और फोटो खिचवायी। फोटो के पश्चात उन्होंने पुनः लोक कलाओं का रसास्वादन किया।

इसके बाद प्रधानमंत्री शेख हसीना को जयपुर प्रस्थान के समय संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीणा, पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल, जिला कलेक्टर गौरव गोयल एवं पुलिस अधीक्षक नितिनदीप ब्लग्गन सहित पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारियों ने भावभीनी विदाई दी।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.