पानी चोरी, अवैध कनेक्शन और सरकारी सम्पत्ती को नुकसान पहुंचाने वालों पर होगी कार्यवाही - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

पानी चोरी, अवैध कनेक्शन और सरकारी सम्पत्ती को नुकसान पहुंचाने वालों पर होगी कार्यवाही

अजमेर। जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने आए दिन कर्मचारियों के साथ अभद्रता एवं राजकार्य में बाधा  पहुंचाने को गम्भीरता से लेते हुए ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए है। इस संबंध में पुलिस विभाग एवं संबंधित थानों को भी पत्र लिखकर निर्देश दिए जाएंगे। राजमार्गों एवं अन्य सड़कों के किनारे ट्यूबवैल खुदवाकर पूरा दिन सड़क पर पानी बहाने एवं सड़कों को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जाएगी। इसी तरह सरकारी सम्पत्तियों, मार्ग संकेतकों और भवनों आदि पर पोस्टर, बैनर व अन्य प्रचार सामग्री चिपकाने वालों के खिलाफ भी मामला दर्ज कराया जाएगा।

जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने आज कलेक्ट्रेट में आयोजित बैठक में जिले में चल रहे विकास कार्यों की साप्ताहिक समीक्षा की। उन्होंने जलदाय विभाग को निर्देश दिए कि सभी जगह पेयजल आपूर्ति को सुचारू, पूरे प्रेशर से एवं पर्याप्त समय तक दिया जाए। जहां-जहां भी लोगों ने अवैध कनेक्शन कर रखे है या बूस्टर लगा रखे है ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही कर एफआईआर दर्ज करवायी जाए। उन्होंने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक से भी चर्चा की। अवैध कनेक्शन करने वालों तथा कर्मचारियों से अभद्रता या मारपीट करने वालों के खिलाफ राजकार्य में बाधा पहुंचाने तथा राजकीय सम्पत्ती को नुकसान पहुंचाने की एफआईआर दर्ज होगी। इस संबंध में पुलिस विभाग तथा सभी थानों को भी तत्काल कार्यवाही के लिए पत्रा लिखा जा रहा है।

जिला कलेक्टर ने राजमार्गों एवं अन्य सड़कों के किनारे ट्यूबवैल खुदवाकर पूरा दिन पानी की बर्बादी करने को भी गम्भीरता से लिया। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि लगातार पानी बहने से सड़कों को भी नुकसान पहुंचता है। ऐसे सर्विस सेन्टरों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जाए। इसी तरह कई जगह विभिन्न व्यक्तियों एवं संस्थाओं ने राजकीय भवनों, मार्ग संकेतकों आदि पर विज्ञापन एवं प्रचार सामग्री लगा रखी है। इनके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने भामाशाह एवं भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि ज्यादा से ज्सादा लोगों को योजना के तहत लाभान्वित किया जाए। गर्मी एवं आगामी बारिश के मौसम में मौसमी बीमारियों का प्रकोप रहता है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग इसके लिए पर्याप्त तैयारी रखे। अस्पतालों में दवाओं का पूरा स्टाॅक रखा जाए। स्वाइन फ्लू एवं अन्य बीमारियों से निपटने के लिए विभाग चौकस रहे।

गोयल ने निर्देश दिए कि जिले के सभी सरकारी स्कूलों में पेयजल कनेक्शन के लिए ग्राम पंचायत के कोष, स्कूल कोष या सांसद-विधायक कोष से राशि आवंटित करवाकर तत्काल आवंटन किया जाए। उन्होंने पालनहार योजना, आजीविका कौशल विकास, श्रमिक कार्ड, व्यक्तिगत लाभ की योजना, मुख्यमंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान, कृषि विभाग, पशु पालन विभाग सहित अन्य योजनाओं की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि संवेदनशील होकर लोगों को राहत प्रदान करें।

उन्होंने राजस्थान सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का समयबद्ध निस्तारण करने के निर्देश भी प्रदान किए। उन्होंने कहा कि विभागों की प्रगति की जानकारी की परफोर्मेंस इंडिकेटर से भी प्राप्त की जा सकती है। विभाग इसके आधार पर प्रगति की समीक्षा करें और इसमें सुधार करें। आगामी दिनों में जयपुर में कलेक्टर- एसपी कांफ्रेंस होनी है। इसकी तैयारी समय पर कर प्रगति रिपोर्ट से अवगत कराएं।
बैठक में नगर निगम के सीईओ हिमांशु गुप्ता, अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रथम किशोर कुमार, अतिरिक्त जिला कलेक्टर अबु सूफियान चौहान, जिला रसद अधिकारी दीप्ति शर्मा, जिला परिषद के एसीईओ संजय माथुर, नगर निगम उपायुक्त ज्योति ककवानी, उपखण्ड अधिकारी भावना शर्मा, कृषि विभाग के उप निदेशक वी.के.शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. के.के.सोनी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.