संभागीय आयुक्त ने की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यक्रमों की समीक्षा - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

संभागीय आयुक्त ने की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यक्रमों की समीक्षा

अजमेर। आगामी 31 मई से 3 जून तक जयपुर में प्रस्तावित जिला कलक्टर्स एवं पुलिस अधीक्षक काॅन्फ्रेन्स की पूर्व तैयारी के लिए गुरूवार को संभागीय आयुक्त हनुमान सहाय मीणा ने संभागीय आयुक्त कार्यालय सभागार में संभाग के जिला कलक्टरर्स एवं जिला पुलिस अधीक्षक तथा अन्य विभागीय अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था  एवं विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक ली।

संभागीय आयुक्त ने प्रथम सत्र में महानिरीक्षक पुलिस मालिनी अग्रवाल के साथ संभाग के समस्त जिला कलक्टरर्स एवं जिला पुलिस अधीक्षक के साथ बैठक में कानून व्यवस्था की समीक्षा की । जिसमें पंजीबद्ध अपराधों की स्थिति व उनका निस्तारण, महिला अत्याचार की स्थिति, निरोधात्मक कार्यवाही तथा गुण्डा एक्ट के तहत प्रकरणों की स्थिति, सड़क दुर्घटना रोकथाम एवं मादक पदार्थो की बिक्री के  साथ ही संवेदनशील मुद्दों, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान व अन्य सामाजिक सरोकार में सहयोग विषयों पर चर्चा की। वही द्वितीय सत्रा में विकास कार्यक्रमों पर समस्त विभागीय अधिकारियों के साथ विस्तार से चर्चा की।

संभागीय आयुक्त ने कहा कि सभी जिला कलक्टर्स एवं जिला पुलिस अधीक्षक छोटे से छोटे मुद्दे का संवेदनशील मानते हुए उसका यथोचित समाधान निकालें। उन्होंने कहा कि संवेदनशील क्षेत्रों में सीसीटीवी केमरे लगाये जाये ताकि अपराध नियंत्राण में सुगमता रहें।

बैठक में पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल ने कहा कि सभी अधिकारी जनसहभागिता के साथ लोगों का विश्वास जीतते हुए कानून व्यवस्था बनाएं रखें। वे अपने अपने क्षेत्रों में दुर्घटनाओं की रोकथाम एवं अपराधों पर नियंत्रण के लिए पुख्ता कदम उठाएं।

बैठक में जिला कलेक्टर अजमेर गौरव गोयल ने बताया कि आगामी अगस्त माह से किशनगढ़ हवाई अड्डा प्रारंभ हो जाएगा।  नोसर घाटी में भी मजार संबंधी समस्या का समाधान कर दिया गया है। शहर के सौन्दर्यीकरण के लिए समस्त सड़कों एवं चौराहों को विकसित करने का कार्य भी शीघ्र प्रारंभ होगा।

इस मौके पर के जिला कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल भीलवाड़ा, के.पी. गौतम नागौर, सुबेसिंह यादव टौंक, मुक्तानंद अग्रवाल भीलवाड़ा, जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह अजमेर, प्रदीप मोहन भीलवाड़ा, पी. देशमुख नागौर, प्रिति जैन टौंक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीआईडी नरेन्द्र सिंह ने भी अपने अपने कार्य क्षेत्र जिलों में कानून व्यवस्था बनाये रखने तथा किए जा रहे नवाचारों की जानकारी दी।

उन्होंने न्याय आपके द्वार अभियान की प्रगति तथा राज्य स्तर से अपेक्षित कार्यो के संबंध में भी बताया। बैठक में बताया गया कि मादक पदार्थो की बिक्री के लिए 11 ऐसी दुकानों को अन्यत्रा स्थानान्तरित कर दी गई है। वहीं भेड़ निष्क्रमण आगामी एक जुलाई से 31 अक्टूबर की अवधि में होगा, इसके लिए समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है।  बैठक में राजश्री योजना का भुगतान शीघ्र करने, टौंक में राजमार्ग पर ट्रोमा सेन्टर स्थापित करने तथा अन्नपूर्णा भण्डारों को सुदृढ़ करने की जरूरत बताई गयी।

द्वितीय सत्र की बैठक में चिकित्सा विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, पंचायत राज , श्रम विभाग तथा स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारियों ने अपने अपने विभागीय योजनाओं की जानकारी दी।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.