मौसमी बीमारियों के प्रति सतर्कता बरतें चिकित्सक : जिला कलेक्टर - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

मौसमी बीमारियों के प्रति सतर्कता बरतें चिकित्सक : जिला कलेक्टर

अजमेर। जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने कहा कि गर्मी के मौसम में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, पेयजल एवं विधुत विभाग आमजन को सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए विशेष तैयारी रखें। चिकित्सा विभाग मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए दवाओं का पर्याप्त स्टाॅक रखे। आमजन को राहत देने के लिए सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जाए।

गोयल ने कलेक्ट्रेट में सोमवार को आयोजित साप्ताहिक समीक्षा बैठक में यह निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि तेज गर्मी का मौसम है। ऐसे में बीमारियां फैलने की आंशका बनी रहती है। सभी स्तर के अस्पतालों में दवाओं का पर्याप्त स्टाॅक रखा जाए। गर्मी में पानी को लेकर भी परेशानियां उत्पन्न होती है। अधिकारी पेयजल आपूर्ति को सुचारू रखने एवं किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहे। विद्युत आपूर्ति व्यवस्था को लेकर भी विशेष सतर्कता रखी जाए।

जिला कलेक्टर ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आमजन को राहत देने  के लिए राजस्थान सम्पर्क पोर्टल की स्थापना की गई है। पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों को समस्त विभागों के सक्षम अधिकारियों द्वारा तत्परता से निपटाया जाना चाहिए। 6 माह से अधिक समय से बकाया प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निपटाएं। पुराने प्रकरणों का निस्तारण करके उनकी संख्या में कमी लानी चाहिए। प्रकरणों का समय पर निस्तारण नहीं करने वाले विभागों के जिम्मेदार अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के द्वितीय चरण के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी निकिया गोहाएन को निर्देश दिए की कार्यो की गति बढ़ाकर निर्धारित समयावधि में पूरा करें। अभियान में प्रथम चरण के परिणाम शानदार रहे है। हमें इन कार्यो की गति को और बढ़ाना चाहिए। शहरी क्षेत्रा में जल स्वावलम्बन अभियान के कार्य भी तय समय में पूरे हो। इसके साथ ही विभिन्न बावड़ियों का जल मंदिर अभियान के तहत पर्यटन विकास की दृष्टि से विकसित किया जाए।

जिला कलेक्टर ने जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय में विभिन्न विकास कार्यो एवं उपलब्ध सेवाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि चिकित्सालय में सफाई, दवाओं का स्टाॅक, निर्माण कार्यो पर निगरानी रखी जाए। साथ ही भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के मार्गदर्शकांे को भी निर्धारित लक्ष्य पूरा करने के निर्देश दिए गए है। गोयल ने ग्रामीण गौरव पथ, शहरी गौरव पथ एवं नरेगा गौरव पथ के कामों की समीक्षा करते हुए  निर्देश दिए कि काम तय समय सीमा में पूरा कराया जाएं।

गोयल ने नगर निगम के अधिकारियों को बस स्टेण्ड के बाहर से अतिक्रमण हटाने तथा विद्युत विभाग को पुरानी आरपीएससी के बाहर से विद्युत पोल हटाने के निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रथम किशोर कुमार, अतिरिक्त जिला कलेक्टर द्वितीयअबु सूफियान चौहान, एसीएम श्वेता यादव, एसीईओ संजय माथुर, जिला रसद अधिकारी दीप्ति शर्मा, कृषि विभाग के उप निदेशक वी.के.शर्मा सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.