प्रजेंटर से लेकर प्रोड्यूसर तक इस चैनल के स्टाफ में सिर्फ महिलाएं ही होगी, आज से शुरू हो रहा है 'वूमन्स टीवी' - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

प्रजेंटर से लेकर प्रोड्यूसर तक इस चैनल के स्टाफ में सिर्फ महिलाएं ही होगी, आज से शुरू हो रहा है 'वूमन्स टीवी'

Kabul, Afganistan, Zan TV, Women's TV, TV channel dedicated to women, female presenters, broadcasting in Afghanistan
काबुल। दुनियाभर में आज जहां महिलाएं हर क्षेत्र में न सिर्फ पुरूषों के बराबर कार्य कर रही है, बल्कि कई जगहों पर महिलाएं पुरूषों से आगे निकल चुकी हैं। इसी के चलते आज मीडिया जगत में भी महिलाओं की अच्छी खासी भागीदारी हो चुकी है और वे एंकरिंग, वीडियो एडिटिंग, कैमरापर्सन, रिपोर्टर के साथ साथ हर क्षेत्र में बराबर भागीदारी निभा रही है। लेकिन अगर अफगानिस्तान की बात की जाए तो यहां मीडिया में महिलाओं के कार्य करने को न सिर्फ बुरा माना जाता है, बल्कि इस क्षेत्र में महिलाओं के कार्य करने के लिहाज से अफगानिस्तान दुनियाभर में सबसे खतरनाक देशों की सूची में शामिल है। इसके बावजूद यहां आज से एक ऐसा टीवी चैनल शुरू होने जा रहा है, जहां पूरा का पूरा स्टाफ ही सिर्फ महिलाएं ही होंगी। और तो और इस टीवी चैनल का नाम भी 'वूमन्स टीवी' रखा गया है।

यूं तो अफगानिस्तान में कई ऐसे टीवी चैनल्स हैं, जिनमें महिलाएं न्यूज एंकर के रूप में कार्य करती हुई नजर आती है, लेकिन वूमन्स टीवी की खास बात ये है​ कि इस चैनल पर हर समय सिर्फ महिलाएं ही नजर आएंगी। वूमन्स टीवी पर दुनियाभर में होनी वाली घटनाओं के पीछे के फैक्ट्स और हाईलाइट्स को दिखाया जाएगा। इसके अलावा हैल्थ और म्यूजिक प्रोग्राम भी दिखाए जाएंगे। गौरतलब है कि इस चैनल में काम करने वाली कई महिलाओं को उनके घर वालों ने काम करने की अनुमति भी प्रदान नहीं की थी, इसके बावजूद उन्होंने मीडिया में ही कार्य करने का फैसला किया और आज से ही इस चैनल की शुरूआत होने जा रही है।

चैनल में प्रोड्यूसर के रूप में कार्य करने वाली खातिरा अहमदी नाम की एक युवती, जो अभी महज 20 साल की है, उनका कहना है कि इस चैनल को महिलाओं के लिए ही शुरू किया गया है, क्योंकि हमारे समाज में महिलाएं अपने अधिकारों को लेकर जागरूक नहीं हैं। इसलिए यह चैनल महिलाओं का प्रतिनिधित्व करने के साथ उनकी आवाज भी उठाएगा, जिससे वे अपने अधिकारों न सिर्फ जान सकेंगी, बल्कि वे अपने अधिकारों के प्रति जागरूक भी हो सकेंगी। मैं इस चैनल से जुड़कर काफी खुश हूं और मैं यहां अपना अनुभव भी साथियों के साथ शेयर करने आई हूं। यहां अन्य लड़कियों को काम करते देखकर बहुत अच्छा लगता है। 

वूूमन्स चैनल के फाउंडर हामिद समर नाम के युवा हैं और उनका कहना है कि यहां महिलाओं और मीडिया के अधिकारों को लेकर काफी चर्चा होती रही है, लेकिन कभी महिलाओं के लिए कुछ खास नहीं किया गया। इसलिए हमने सोचा कि क्यों न महिलाओं के लिए कुछ किया जाए। और उसी का ये नतीजा है कि आज से हमारा ये चैनल शुरूआत करने जा रहा है।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.