स्कूलों में गठित होंगे रोड सेफ्टी क्लब, सड़कों पर नहीं उतार सकेंगे बच्चे : सिंह - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

स्कूलों में गठित होंगे रोड सेफ्टी क्लब, सड़कों पर नहीं उतार सकेंगे बच्चे : सिंह

अजमेर। जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह ने कहा कि स्कूली बच्चों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। स्कूलों को यातायात सुरक्षा एवं जागरूकता बढ़ाने के लिए अपने यहां रोड सेफ्टी क्लब गठित करने के साथ ही यातायात संयोजकों की नियुक्ति करनी पड़ेगी। किसी भी स्कूल के बाहर बच्चों को ना तो उतारा जाएगा और ना ही बैठाया जाएगा। प्रत्येक टैम्पों में दायें हाथ की तरफ सुरक्षा जाली तो लगेगी ही, साथ ही वैन, टैम्पों व बस चालकों का पुलिस वैरिफिकेशन भी आवश्यक किया जाएगा।

शहर में स्कूली बच्चों की सुरक्षा को लेकर बाल वाहिनी योजना के क्रियान्वयन के लिए गठित स्थायी समिति की बैठक आज पुलिस लाइन में जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। पुलिस अधीक्षक ने बैठक में उपस्थित सभी स्कूलों, टैम्पो, बस, वैन यूनियनों सहित सभी संबंधित पक्षों को स्पष्ट कर दिया कि लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं होगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बाल वाहिनी योजना के लिए तैयार निर्देशों की पालना सख्ती से करवायी जाएगी। यातायात पुलिस यह सुनिश्चित करेगी कि कोई भी पक्ष बच्चों की सुरक्षा में कोताही नहीं करे।

सबसे सुरक्षित विद्यालय को मिलेगा पुरस्कार
पुलिस अधीक्षक सिंह ने कहा कि प्रत्येक स्कूल को अपने यहां रोड सेफ्टी क्लब गठित करना एवं यातायात संयोजक की नियुक्ति अनिवार्य है। प्रत्येक स्कूल में आगामी 5 से 15 जुलाई तक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। स्कूलों में एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा भी आयोजित की जाएगी। जिसमें विभिन्न पहलुओं के आधार पर सबसे सुरक्षित विद्यालय का चयन कर सम्मानित किया जाएगा।

सड़क पर नहीं उतार सकेंगे बच्चों को
उन्होंने निर्देश दिए कि बालवाहिनी की गाइड लाइन के अनुसार स्कूलों में बच्चों को लेकर आने वाले टैम्पो, वैन एवं बस चालक उन्हें सड़क पर नहीं उतारेंगे। इन सभी वाहनों के चालकों का नाम पता एवं अन्य डेटा प्राप्त कर उनका पुलिस वैरीफिकेशन कराया जाएगा। अगर कोई चालक पूर्व में शराब पीकर वाहन चलाने का दोषी पाया गया है तो उसे तुरन्त प्रभाव से हटाया जाएगा। सभी टैम्पो में सुरक्षा जालियां लगवायी जाएंगी। वाहन चालक खाकी वर्दी पहनकर ही वाहन चला सकेंगे।

जिला पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी स्कूलों को अपने यहां विभिन्न इंतजाम करने होंगे। स्कूल छात्र-छात्राओं को समझाईश करें कि वे बिना वैध लाईसेंस वाहन नहीं चलाएं। इसके लिए  नियमानुसार फ्लैक्स बोर्ड भी स्कूल में यथास्थान स्थायी रूप से प्रदर्शित करें। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर शहर अरविंद सेंगवा, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी विनोद कुमार, पुलिस उप अधीक्षक प्रीती चौधरी, अतिरिक्त परिवहन आयुक्त ओम प्रकाश मारू सहित विभिन्न स्कूलों के प्रतिनिधि, टैम्पो, वैन व सिटी बस यूनियनों के पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.