हर कोर्स की टाॅपर छात्रा करेगी हवाई यात्रा : भदेल - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

हर कोर्स की टाॅपर छात्रा करेगी हवाई यात्रा : भदेल

अजमेर । राज्य के श्रम एवं कौशल विकास मंत्री डाॅ. जसवंत सिंह यादव ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की सोच है कि हर युवा हुनरमंद बने और उसके हाथ में रोजगार हो। अजमेर में आयोजित यह बालिका कौशल विकास शिविर सरकार की सोच के अनुरूप हमारी बेटियों को सशक्त कर रहा है।

श्रम मंत्री डाॅ. जसवंत सिंह यादव ने आज चन्द्रवरदाई नगर स्थित आॅल सेंट स्कूल में चल रहे पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी बालिका कौशल विकास शिविर में यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ऐसे युवाओं को तैयार करने पर जोर दे रहे है। जो किसी भी क्षेत्रा में पीछे ना रहें। हमारे युवा हर तरह से सक्षम हैं, बस जरूरत है उन्हें सही मार्ग दिखाने की।

डाॅ. यादव ने कहा कि राजस्थान इस दिशा में तेजी से कदम बढ़ा रहा है। मुख्यमंत्राी की अभिनव पहल से राजस्थान में देश की पहली कौशल विकास यूनिवर्सिटी खोली जा रही है। इसमें युवा अपनी रूचि के अनुसार किसी भी हुनर को सिखने के लिए दाखिला ले सकेंगे। यह पूरी दुनिया में अपनी तरह की अनूठी पहल है जहां युवाओं को उनकी रूचि के अनुसार प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि वे स्वरोजगार अपनाकर अपना भविष्य संवार सकें।

उन्होंने बालिका कौशल विकास शिविर की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह की पहल और नवाचार यदि राजस्थान का प्रत्येक विधायक कर लें तो हमें बालिका सशक्तिकरण में देश की सर्वोच्च शक्ति बनते देर नहीं लगेगी। राजस्थान में बालिका सशक्तिकरण की दिशा में बहुत अच्छा काम हुआ है। शीघ्र ही हम पूरे देश में अव्वल होंगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने कहा कि बालिका सशक्तिकरण के लिए मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पूरे राजस्थान में लगातार विभिन्न योजनाओं के जरिए प्रयास किया जा रहा है। हमारा प्रयास है कि प्रत्येक बालिका पूरे आत्म विश्वास से अपने इच्छित क्षेत्र में आगे बढ़े। इसके लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि बालिकाएं मन लगाकर पढ़ाई करें और हर क्षेत्रा में आगे बढ़े तभी इन प्रयासों की सार्थकता साबित होगी। उन्होंने कहा कि यह बालिका कौशल शिविर में बच्चियों को उनके मन पसंद क्षेत्रा में आगे बढ़ाने के लिए एक मिल का पत्थर बनेंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक कोर्स की प्रत्येक बालिका को पुरस्कार स्वरूप एक ज्ञानवर्द्धक हवाई यात्रा भी करवाई जाएगी।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय के कूलपति प्रो. कैलाश सोढ़ाणी ने कहा कि प्रदेश का हर विधायक इसी तरह बालिकाओं को हुनरमंद बनाकर सशक्त करें तो प्रतिवर्ष 2 लाख बालिकाओं को आगे बढ़ाया जा सकता है। उन्होंने बालिकाओं से कहा कि आप अपना लक्ष्य तय करें और उसकी प्राप्ति के लिए पूरे मनोयोग से जुट जाए। सपने वो नहीं होते है जो नींद में आते है बल्कि सपने वो होते जो नींद उड़ा देते है। आगे बढ़ने के लिए आपको हर तरह से तैयारी कर मैदान में उतरना होगा।

उन्होंने कहा कि इस तरह के शिविर राजनैतिक लोगों के लिए समाज सेवा का एक बहुत बड़ा उदाहरण है। जो वे अपने क्षेत्र मे कार्यरत रहते हुए कर सकते है। महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय का भी इस शिविर में योगदान है। ऐसे शिविरों के आयोजन से बालिकाओं को आगे बढ़ाने क लिए किए जा रहे प्रयासों को निश्चित रूप से बल मिलेगा।

कार्यक्रम में आज बालिकाओं को डिजीटल इण्डिया, डिजीटल पैमेंट और कैशलेस बैंकिंग के बारे में सारगर्भित जानकारी दी गई। सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया के अधिकारियों ने बालिकाओं को जानकारी देते हुए बताया कि केन्द्र व राज्य सरकार भ्रष्टाचार और कालेधन के  खिलाफ  जो लड़ाई लड़ रही है। उसमें डिजीटल इण्डिया का महत्वपूर्ण योगदान है।

उन्होंने जानकारी दी कि डिजीटल इण्डिया के तहत ई-गर्वेनेंस, सूचना तकनीक का इस्तेमाल, नौकरियों में तकनीक का योगदान, भीम एप्प, ई-वाॅलेट एवं डिजीटल भुगतान आदि से हम देश को कालेधन की समस्या से मुक्ति दिला सकते है। स्टेट बैंक आॅफ इण्डिया के अधिकारियों ने मुद्रा योजना, बडी एवं अन्य डिजीटल तरीकों से बैंकिंग की जानकारी दी।

इस अवसर पर अध्यक्ष अरविंद यादव, पूर्व विधायक हरीश झामनानी, उप महापौर संपत सांखला, कंवल प्रकाश किशनानी सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.