बारिश के मौसम में सतर्क रहें सभी विभाग, प्रो. जाट ने विभागीय योजनाओं की समीक्षा - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

बारिश के मौसम में सतर्क रहें सभी विभाग, प्रो. जाट ने विभागीय योजनाओं की समीक्षा

अजमेर। राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष एवं सांसद प्रो. सांवर लाल जाट ने कहा कि गर्मी और बारिश के दिनों में कई तरह की बीमारियां और परेशानियां उभरती है। सभी विभाग इनके निराकरण के लिए सतर्क रहकर काम करें। गांवों में पानी और बिजली की आपूर्ति पूरी तरह सुचारू रहे। सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत चयनित गांवों में सभी काम समय पर पूरे किए जाएं।

राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष प्रो. जाट ने आज कलेक्ट्रेट के सभागार में जिले में चल रही विभिन्न योजनाओं के कामकाज की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से आमजन को तत्काल राहत पहुंचाने की मंशा से काम करती है। अधिकारी भी संवेदनशील होकर इन योजनाओं में अपना पूरा सहयोग दें। आमजन की समस्याओं के निराकरण के लिए यथाशीघ्र निर्णय लें।

उन्होंने कहा कि गर्मी और बारिश के मौसम में मौसमी बीमारियों, जलापूर्ति और विद्युत आपूर्ति से संबंधित परेशानियां सामने आती है। संबंधित विभाग सतर्क रहकर इनके निराकरण के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम करें। सरकारी अस्पतालों में दवाओं का पर्याप्त स्टाॅक रखा जाए। भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत ज्यादा से ज्यादा मरीजों को लाभान्वित किया जाए। प्रसूताओं को राजश्री योजना के लाभ प्रदान किए जाएं।

प्रो. जाट ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा करते हुए कालेसरा ग्राम पंचायत के कामों की सराहना की। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से कालेसरा ग्राम पंचायत नेशनल रैकिंग में स्थान बना पायी है। इसी तरह सलेमाबाद, भांवता आदि आदर्श ग्राम पंचायतों में भी अच्छा काम हुआ है। सभी विभाग आदर्श गांवों में अपने से संबंधित काम समय पर पूरा करें। कामों की नियमित माॅनिटरिंग हो।

उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ग्रामीण गौरव पथ के कार्याें में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। जहां -जहां भी कार्य प्रस्तावित हैं, अधिकारी वहां नियमित निरीक्षण करें। ग्रामीण गौरव पथ, महानरेगा एवं पैचवर्क के कार्यों में जनप्रतिनिधियों से समन्वय स्थापित कर प्राथमिकता के आधार पर कार्य किया जाए। जलदाय विभाग बीसलपुर योजना से जुड़े गांवों में निर्धारित समय पर जलापूर्ति करे। जिन गांवों में बीसलपुर का पानी नहीं आता है उन गांवों को योजना से जोड़ने के लिए प्रस्ताव तैयार किए जाएं। पेयजल सभी ग्रामीण क्षेत्रों की प्रथम आवश्यकता है। इसके निराकरण के लिए संवेदनशील होकर कार्य करे।

प्रो. जाट ने विद्युत विभाग को निर्देश दिए कि जिले में सभी जगह आपूर्ति सुचारू रखी जाए। ट्रिपिंग की समस्या नहीं आनी चाहिए। आगामी वर्षों में करीब 35 करोड़ रूपए के काम होने हैं। इन्हें पूरी तरह योजनाबद्ध ढंग से किया जाए ताकि ग्रामीणों को इनका ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके। शिक्षा सहित अन्य सभी विभाग आदर्श गांवों में यह सुनिश्चित करे की वहां पर कोई भी पद रिक्त ना रहे।

किसान आयोग अध्यक्ष ने वन, महात्मा गांधी नरेगा, पंचायतीराज, सिंचाई, महिला एवं बाल विकास, रसद, श्रम, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग,नगर निगम, अजमेर विकास प्राधिकरण, मुख्य मंत्राी जल स्वावलम्बन अभियान सहित अन्य विभागों के कामकाज की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि सभी विभाग संवेदनशील होकर आमजन को राहत प्रदान करें।

बैठक में पीसांगन प्रधान दिलीप पचार, अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रथम किशोर कुमार, अतिरिक्त जिला कलेक्टर द्वितीय अबु सूफियान चौहान, जिला रसद अधिकारी दिप्ती शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. के.के.सोनी, कृषि विभाग के उप निदेशक वी.के.शर्मा सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.