पुलिस थाने तक पहुंची भाजपा की अंदरूनी कलह, घनश्याम तिवाड़ी ने भाजपा मीडिया सैल के खिलाफ दर्ज करवाया मामला - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

पुलिस थाने तक पहुंची भाजपा की अंदरूनी कलह, घनश्याम तिवाड़ी ने भाजपा मीडिया सैल के खिलाफ दर्ज करवाया मामला

Jaipur, Rajasthan, BJP, MLA, Ghanshyam Tiwari, BJP Media Cell, FIR, Notice
जयपुर। राजस्थान भाजपा और पार्टी की साइडलाइन चल रहे विधायक घनश्याम तिवाड़ी के बीच चल रही अंदरूनी कलह अब पुलिस थाने तक पहुंच गई है। तिवाड़ी ने भाजपा मीडिया सैल के खिलाफ पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया है, जिसमें तिवाड़ी ने उनकी छवि को धूमिल किए जाने का आरोप लगाया है।

जानकारी के अनुसार, भाजपा के विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने जयपुर के जालूपुरा थाने में केस दर्ज करवाया है, जिसमें तिवाड़ी ने शिकायत करते हुए बताया है कि भाजपा की मीडिया सैल 9116720313 नम्बर से टीम राजस्थान नाम से वाट्सअप नम्बर चलाती है। इसी नम्बर से मुख्यमंत्री कार्यालय और भाजपा आईटी विभाग के तमाम संदेश जारी किये जाते हैं। इस नम्बर से प्रदेश में लाखों लोग जुडे हुए हैं। इस नम्बर को टीम राजस्थान नाम से भाजपा के मीडिया सैल ने सार्वजनिक भी किया हुआ है।

तिवाड़ी ने बताया कि 20 मई से इस नम्बर से घनश्याम तिवाड़ी के खिलाफ कूटरचित और आपत्तिजनक पोस्ट की जा रही है। इनमें प्रदेश के कई बड़े अखबारों के कुटरचित संदेश भी छपवाये गयें है, जिससे उनकी इमेज को खासा नुकसान हुआ है। यही नहीं, तिवाडी ने सीधे भाजपा मीडिया सैल पर आरोप लगाते हुए कहा कि मीडिया सैल को पता था कि इस तरह के मैसेज इस नम्बर से भेजे जा रहें है। इसके बाद भी इन बातों को उन्होंने रोका नहीं, उससे लगता है कि भाजपा मीडिया सैल के कहने पर ही ये काम हो रहा है।

गौरतलब है कि भाजपा विधायक घनश्याम तिवाड़ी इस कार्यकाल में मुख्यमंत्री के खिलाफ लगातार मुखर रहें हैं, लेकिन बीते माह भाजपा के केन्द्रीय अनुशासन कमेटी से मिले नोटिस के बाद हालात और बिगड़ गये। नोटिस के जवाब में तिवाड़ी ने मुख्यमंत्री पर ही सीधे भ्रष्टाचार के आरोप लगा दिये, जिसके बाद सरकार के मंत्रियों ने भी तिवाड़ी पर सीधे जयपुर सीकर में अपने और परिजनों के नाम पर 400 बीघा जमीन भ्रष्ट तरीके से खरीदने के आरोप लगाये थे, लेकिन अब तक आपस में ही चल रहा ये विवाद अब पुलिस थाने तक पहुंच गया है।


सम्बंधित खबरें भी पढ़ें :

घनश्याम तिवाड़ी को भाजपा ने जारी किया अनुशासनहीनता का नोटिस, 10 दिनों में मांगा स्पष्टीकरण
घनश्याम तिवाड़ी ने दिया जवाब, नोटिस को बताया सच्ची निष्ठा का तिरस्कार 





Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.