एयू स्माल फाइनेंस बैंक का आईपीओ 28 को खुलेगा, 1900 करोड़ जुटाने का रखा लक्ष्य - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

एयू स्माल फाइनेंस बैंक का आईपीओ 28 को खुलेगा, 1900 करोड़ जुटाने का रखा लक्ष्य

Jaipur, Rajasthan, AU Finance ltd, au small finance bank limited, Sanjay Agrwal
जयपुर। एयू स्माल फाइनेंस बैंक का आईपीओ 28 जून को खुल रहा है। इसके तहत 5.34 करोड़ इक्विटी शेयर जारी किए जा रहे हैं, जिसका प्राइस बैंड 355 से 358 रुपए प्रति शेयर रखा गया है। यह जानकारी शुक्रवार को यहां बैंक के एमडी और सीईओ संजय अग्रवाल ने दी। इस इश्यू के जरिये 1900 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य है। इश्यू 30 जून को बंद हाेगा। इसमें न्यूनतम 41 शेयरों के लिए आवेदन किया जा सकता है। एयू को रिजर्व बैंक ने गत वर्ष स्माल फाइनेंस बैंक का लाइसेंस प्रदान किया था।

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड ने अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आइपीओ) 28 जून को पेश करने का प्रस्ताव रखा है। कंपनी पूंजी (ऑफर) (शेयर प्रीमियम सहित) जुटाने के लिए विक्रय शेयरधारकों द्वारा 10 रूपये सममूल्य के 53422169 इक्विटी शेयरों का आइपीओ लेकर आ रही है। इसमें संजय अग्रवाल द्वारा 2,494,769 इक्विटी शेयरों, ज्योति अग्रवाल द्वारा 2,363,712 इक्विटी शेयरों, शकुंतला अग्रवाल द्वारा 2,274,326 इक्विटी शेयरों, चिंरंजी लाल अग्रवाल द्वारा 1,290,449 इक्विटी शेयरों, एमवाइएस होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 576,744 इक्विटी शेयरों, रेडवुड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड द्वारा 14,800,000 इक्विटी शेयरों, इंटरनेशनल फाइनेंस कॉर्पोरेशन द्वारा 7,572,169 इक्विटी शेयरों, लाभ इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड द्वारा 11,250,000 इक्विटी शेयरों, ऑरिया होल्डिंग्स लिमिटेड द्वारा 10,365,368 इक्विटी शेयरों और केदारा कैपिटल ऑल्टरनेटिव इन्वेस्टमेंट फंड द्वारा 434,632 इक्विटी शेयरों तक की बिक्री शामिल है।

इस निर्गम में योग्य कर्मचारियों द्वारा अभिदान के लिए 1,000,000 इक्विटी शेयरों का आरक्षण शामिल है। यह निर्गम पश्चात चुकता इक्विटी शेयर पूंजी का 5 प्रतिशत से अधिक नहीं होगा। कर्मचारी आरक्षण हिस्से को हटाने के बाद अब इस निर्गम को यहां से ‘नेट ऑफर’ कहा जायेगा। इस निर्गम के लिए प्राइस बैंड 355 रूपये से 358 रूपये प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है। बिड्स न्यूनतम 41 इक्विटी शेयरों एवं उसके बाद 41 इक्विटी शेयरों के गुणक में लगाई जा सकती हैं। यह निर्गम 30 जून 2017 को बंद होगा। आरएचपी के जरिये पेश किये जाने वाले इक्विटी शेयर बीएसई लिमिटेड एवं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड में सूचीबद्ध होना प्रस्तावित है।  एनएसई प्राधिकृत स्टॉक एक्सचेंज है।

अग्रवाल के अनुसार यह राजस्थान से किसी भी कंपनी का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ है। हाल ही एसबीबीजे के एसबीआई में विलय के साथ ही अब राजस्थान मूल का भी यही एकमात्र बैंक रह गया है। उन्होंने बताया कि एयू दो दशक तक एसेट फाइनेंसिंग एनबीएफसी के तौर पर ग्रामीण और अर्ध-शहरी बैंकिंग-रहित ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करती रही है। वाहन कर्ज, एसएमई और एमएसएमई सेक्टर में भी यह स्थापित नाम है। एयू बैंक ने अप्रैल माह से अपनी लॉन्चिंग के साथ ही देश के दस राज्यों में 284 शाखाएं खोल दी हैं। इस अवसर पर कार्यकारी निदेशक उत्तर टीबरेवाल, सीएफओ दीपक जैन, ग्रुप हैड मनोज टीबरेवाल, ग्रुप हैड (लायबिलिटीज) संजय राजावत और एचडीएफसी बैंक के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल भावनानी भी माैजूद रहे।




Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.