ICC चैंपियंस ट्रॉफी : भारत—पाक के महामुकाबले में भारत को जीत के लिए मिला 339 रन का लक्ष्य - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

ICC चैंपियंस ट्रॉफी : भारत—पाक के महामुकाबले में भारत को जीत के लिए मिला 339 रन का लक्ष्य

London, Oval, india, Pakistan, ICC Champions Trophy 2017, India Pak Final, Cricket MATCH
ओवल। ICC चैंपियंस ट्रॉफी में 'द ओवल' में भारत और पाकिस्तान के बीच खेले जा रहे फाइनल मैच में भारत को जीत के लिए पाकिस्तान की ओर से 339 रन का टारगेट मिला है। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के बल्लेबाजों ने सधी हुई एवं धुएंधार बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 339 रन का विशाल लक्ष्य रखा है। ऐसे में भारत को से फाइनल मैच जीतने के लिए सधी हुई बल्लेबाजी करने के साथ साथ रनों का पीछा करना भी आवश्यक होगा। हालांकि पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की गेंदबाजी ज्यादा मजबूत नहीं है, लेकिन फिर भी पाकिस्तान को हल्के में भी नहीं लेना चाहिए और भारत को पाकिस्तान की गेंदबाजी का अपने बल्ले से माकूल जवाब देना होगा।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले पाकिस्तान को बल्लेबाजी करने का न्योता दिया, जिसके बाद दोनों ही सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 23 ओवर में 128 रन जोड़े, वहीँ अज़हर अली (59) के रूप में पाकिस्तान को पहला झटका लगा। उनको जसप्रीत बुमराह ने रन आउट किया। फखर ज़मान को हार्दिक पांड्या ने रविन्द्र जडेजा के हाथों की शोभा बनाया। उन्होंने खूबसूरत शतकीय पारी खेली।

उनके अलावा बाबर आज़म (46) ने भी जुझारू पारी खेली और अपनी टीम के स्कोर में अहम योगदान दिया। उनको पार्टटाइम स्पिनर केदार जाधव ने युवराज सिंह के हाथों कैच कराया, लेकिन शोएब मालिक (12) ने अपनी टीम को निराश किया। उनको तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार ने अपना शिकार बनाया। इसके बाद मोहम्मद हफीज (57) ने कुछ आक्रामक शॉट्स खेलकर मैदान में मौजूद दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया, वहीं इमाद वसीम (25) ने भी भारतीय गेंदबाजों को जमकर परेशान किया, जिसकी बदौलत पाकिस्तान ने भारत के सामने 50 ओवर में - का स्कोर खड़ा किया। मोहम्मद हफीज और इमाद वसीम दोनों ही नाबाद वापस पवेलियन लौटे।

टीम इंडिया की तरफ से भुवनेश्वर कुमार सबसे सफल गेंदबाज़ रहे। उन्होंने अपने 10 ओवर में 2 मेडेन डाले, जिसमें उन्होंने 44 रन खर्च किए और 1 विकेट भी हासिल किया। उनके अलावा हार्दिक पांड्या और केदार जाधव को 1-1 विकेट हासिल हुआ। रविन्द्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और जसप्रीत बुमराह को कोई भी सफलता प्राप्त नहीं हो सकी।

गौरतलब है कि पाकिस्तान आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहली बार पहुंची है, वहीँ इस टीम ने भारत के सामने खिताब को जीतने के लिए - रन का विशाल लक्ष्य रखा है। अगर भारत इस लक्ष्य को हासिल करने में कामयाब हो जाता है, तब यह तीसरा मौका होगा, जब टीम इंडिया आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब को तीसरी बार अपने कब्ज़े में लेगी। बहरहाल, भारत को इस फाइनल मैच को जीतने के लिए 339 रनों का लक्ष्य हासिल करना होगा।




Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.