पुष्कर ब्रह्मा मंदिर के विकास का माॅडल स्थापित, कलेक्टर ने किया सरोवर के घाटो का अवलोकन - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

पुष्कर ब्रह्मा मंदिर के विकास का माॅडल स्थापित, कलेक्टर ने किया सरोवर के घाटो का अवलोकन

पुष्कर। संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत तथा जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने ब्रह्मा मंदिर के विकास कार्य के माॅडल शनिवार को प्रस्तुत किया। उन्होंने पुष्कर सरोवर के घाटो पर चल रहे निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। गुणवत्ता सही नहीं पाए जाने पर जिला कलेक्टर ने निर्माण कार्य रोकने के निर्देश प्रदान किए।

पुष्कर सरोवर के घाटो पर चल रहे निर्माण कार्य का संसदीय सचिव एवं जिला कलेक्टर द्वारा अवलोकन किया गया। अवलोकन के दौरान घाट निर्माण कार्य की एकरूपता नहीं पायी गई। अलग-अलग रंग तथा प्रकार के पत्थरों के कारण घाटो का सौंदर्य प्रभावित हो रहा था। जांच करने पर कार्य की गुणवत्ता संतोषजनक नहीं पायी गई। इस पर जिला कलेक्टर ने संबंधित उच्च अधिकारियों से दूरभाष पर वार्ता कर कार्य रूकवाने के निर्देश प्रदान किए। निर्माण कार्य के गुणवत्ता की जांच आगामी सप्ताह में राजस्थान पर्यटन विकास निगम जयपुर के अधिकारियों का दल द्वारा की जाएगी।

ब्रह्मा मन्दिर में विकास कार्यों की रूपरेखा के संबंध में प्रस्तावित माॅडल का शनिवार को प्रदर्शन किया गया। इस माॅडल को ब्रह्मा मन्दिर में श्रृद्धालूओं के अवलोकनार्थ रखा गया है। श्रृद्धालू इसका अवलोकन कर सुझाव भी दे सकते हैं। श्रृद्धालूओं के सुझाव आंमत्रित करने के लिए सुझावपेटिका की स्थापना की गई है। इसे माॅडल के पास ही स्थापित किया गया है। श्रृद्धालूओं के द्वारा प्राप्त सुझावों को ब्रह्मा मंदिर की प्रबंधन कमेटी के समक्ष रखा जाएगा। कमेटी द्वारा उचित पाए जाने पर प्रस्तावित माॅडल में आवश्यक बदलाव भी किए जाएंगे।

प्रस्तावित माॅडल के अनुसार ब्रह्मा मंदिर परिसर में लगभग 24 करोड़ 6 लाख की राशि से विकास कार्य करवाए जाएंगे। इससे शानदार एन्ट्री प्लाजा, मुक्ताकाशी मंच, आध्यात्मिक उद्यान, पाथवे, पुष्प स्टाॅल, गौशाला एवं भोजनशाला का निर्माण करवाया जाएगा। अध्यात्मिक उद्यान में जगत पिता ब्रह्मा के द्वारा सृष्टि रचना की जानकारी प्रदान की जाएगी। मुक्ताकाश्ी मंच में धार्मिक एवं सांस्कृति गतिविधियां आयोजित की जाएगी। उद्यान में धार्मिक महत्व के पेड़ पौधो को लगाया जाएगा। योग के लिए भी स्थान निर्धारित करने का प्रावधान रखा गया है। वृद्ध एवं दिव्यांगों को लिफ्ट की सुविधा उपलब्ध करवाए जाने का प्रावधान रखा गया है। ब्रह्मा मंदिर के प्रस्तावित माॅडल की परिकल्पना गुजरात के प्रसिद्ध अक्षरधाम मन्दिर से प्रेरित है।

ब्रह्मा मंदिर में प्रबंधन कमेटी की बैठक आयोजित की गई। इसमें सदस्यों ने मंदिर के विकास के संबंध में विचार विमर्श किया। मंदिर के एक मुख्य प्रवेश द्वार के दोनो और मेले के दौरान खोले जाने वाले बड़े दो द्वार तथा एक आपातकालिन एवं सर्विस गेट की व्यवस्था पर चर्चा की गई। पुष्कर तीर्थ क्षेत्र में प्रवेश को विशेष रूप देने के लिए समस्त प्रवेश मार्गों पर भव्य द्वार बनाने के प्रस्ताव पर भी चर्चा की।

इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी विष्णु कुमार गोयल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भोलाराम, तहसीलदार प्रदीप चौमाल सहित कमेटी के सदस्य एवं नगर पालिका के पार्षद उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.