स्वाइन फ्लू से सावधानी ही बचाव, प्रारंभिक लक्षण नजर आने पर तुरंत जाएं चिकित्सक के पास - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

स्वाइन फ्लू से सावधानी ही बचाव, प्रारंभिक लक्षण नजर आने पर तुरंत जाएं चिकित्सक के पास

अजमेर। जिले में स्वाइन फ्लू के बढ़ते प्रकोप के बीच चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने इस बीमारी से बचने के लिए अलर्ट जारी किया है। विभाग ने स्वाइन फ्लू के लक्षणों की जानकारी देते हुए आमजन से बचाव के लिए सावधानी बरतने का आग्रह किया है। जिला कलक्टर ने भी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को स्वाइन फ्लू की रोकथाम के लिए सभी इंतजाम पुख्ता रखने के निर्देश दिए हैं।

जिला कलेक्टर गौरव गोयल ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि जिले के सभी चिकित्सालयों में स्वाइन फ्लू से बचाव के लिए टेमीफ्लू एवं अन्य दवाओं का पर्याप्त स्टाॅक रखा जाए। साथ ही चिकित्सक समय पर चिकित्सालयों में उपलब्ध रहें।

उन्होंने आमजन से आग्रह किया कि स्वाइन फ्लू बीमारी के लक्षण नजर आते ही तुरन्त चिकित्सक से सम्पर्क करें। सभी राजकीय चिकित्सालयों में स्वाइन फ्लू की निःशुल्क दवा उपलब्ध है। गर्भवती महिलाओं, 5 साल से छोटे बच्चों, वरिष्ठ नागरिकों, बीपीएल परिवार एवं समस्त भर्ती मरीजों के लिए स्वाइन फ्लू की जांच निःशुल्क उपलब्ध है। इसके साथ ही मेडिकल काॅलेज व जिला चिकित्सालय पर जांच के लिए सेंपल संग्रह की सुविधा उपलब्ध है।

यह है लक्षण
स्वाईन फ्लू के प्रारम्भिक लक्षणों में छींक आना व नाक से पानी बहना, खांसी और गले में खराश, सिर दर्द, बुखार, दस्त व उल्टी, सांस लेने में कठिनाई आदि प्रमुख हैं।

सावधानी बरतें
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिशा निर्देशों के अनुसार आमजन को विशेष सावधानी बरतने की हिदायत दी गई है। स्वाईन फ्लू पीड़ित व्यक्ति से निकट सम्पर्क ना रखें। हाथ मिलाना, गले मिलना इत्यादि से बचा जाना चाहिए। डाॅक्टर से पूछे बगैर दवाईयां ना लें। इस्तेमाल किए गए टिश्यू या रूमाल को खुले में न डालें। स्वाइन फ्लू प्रभावित जगह पर फेसमास्क लगाए बगैर न जाएं। घर के पास गंदगी न होने दें। भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। साथ ही स्वाईन फ्लू रोगी से अधिक निकटता न बनाएं।

यह भी करें
विभाग के द्वारा आमजन को सावधानी के साथ-साथ करने योग्य कार्यों के बारे में भी बताया जा रहा है। खांसते या छींकते समय अपने मुंह व नाक को रूमाल या टिश्यू से ढ़कें। अपनी नाक, आंखे या मुंह को छूने के बाद और पहले अपने हाथों को कई बार अच्छी तरह साबुन व पानी से धोएं। खांसी, बहती नाक, छींक व बुखार जैसे फ्लू के लक्षणों से प्रभावित लोगों से दूरी बनाएं। भरपूर नींद लें। खूब पानी पीएं व पोषक भोजन खाएं। घर के दरवाजों के हैंडल, की बोर्ड, मेज को साफ रखें। इसके अलावा स्वाईन फ्लू के प्रारंभिक लक्षण पाए जाने पर तुरन्त डाॅक्टर से संपर्क करना चाहिए।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.