रामगंज बवाल : 4 थाना इलाकों में कर्फ्यू जारी, इंटरनेट सेवाएं रहेगी बंद, शांति समिति की दोनों बैठकें विफल - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

रामगंज बवाल : 4 थाना इलाकों में कर्फ्यू जारी, इंटरनेट सेवाएं रहेगी बंद, शांति समिति की दोनों बैठकें विफल

जयपुर, रामगंज थाने बवाल, रामगंज थाने का घेराव, रामगंज थाना पुलिस, रामगंज चौपड़, पुलिस पर पथराव, आसूं गैस के गोले, हवाई फायर, रामगंज में उपद्रव, jaipur news ramganj tension case, curfew in jaipur, curfew in five police thana area in jaipur, dead of one injured, two serious, nuisance in aipur, nuisance in ramganj, ramganj chaupar tension in ramganj, arson in ramganj, police line jaipur, ramganj thana police station, police commissionerate jaipur, ramganj chaupar jaipur, nuisance in ramganj area of jaipur, fire in govt property, jaipur crime news, jaipur hindi news, rajasthan hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi, रामगंज बवाल, जयपुर में कर्फ्यू
जयपुर। राजधानी जयपुर के रामगंज इलाके में शुक्रवार देर रात एक पुलिसकर्मी द्वारा एक युवक को डंडा मारने की मामूली बात को लेकर उपजे विवाद के बीच मचे बवाल में पथराव, आगजनी और हवाई फायरिंग के लगाया गया कर्फ्यू अभी भी जारी है। कर्फ्यू को लेकर अभी तक स्थिति साफ नहीं हो सकी है कि कल रविवार को भी कर्फ्यू यथावत रहेगा या फिर इसमें कुछ ढील दी जाएगी। वहीं रविवार रात तक इन्टरनेट सेवाएं बंद रहेगी। वहीं दूसरी ओर, बवाल के दौरान मारे गए गंगापोल निवासी आदिल की मौत के बाद उसके परिजन मुआवजे और सरकारी नौकरी की मांग पर अड़े हैं, जिससे अभी तक उसके शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका है।

यह भी पढ़ें : रामगंज में उपद्रव के बाद जयपुर के 5 थाना इलाकों में लगा कर्फ्यू, इंटरनेट सेवाएं बंद

रामगंज में शुक्रवार को देर रात को मचे बवाल के बाद शनिवार तड़के से लगाया गया कर्फ्यू जारी है और इलाके में तनावपूर्ण शांति है। इस दौरान शनिवर सुबह शांति समिति के ओर से दो बार बैठकें रखी गई, जिसमें पहली बैठक पुलिस की ओर से और दूसरी बैठक भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, किशनपोल विधायक मोहन गुप्ता और महापौर अशोक लाहौटी द्वारा की रखी गई। जानकारी के शांति समिति की ये दोनों बैठकें विफल रही और बेनतीजा ही खत्म हो गई।

यह भी पढ़ें : जयपुर में आधी रात को गर्माया माहौल, कई वाहन फूंके, 1 की मौत, 10 पुलिसकर्मी घायल

शांति समिति की बैठकों में वार्ता के दौरान अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का कहना था कि मृतक आदिल तो किसी दावत में से आ रहा था। पहले तो उस पर पुलिसकर्मी द्वारा डंडा मारा गया और उसके बाद में बवाल के बीच जिस अधिकारी ने गोली चलाने के आदेश दिए, उसे तुरन्त निलम्बित करें और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। मुतक आदिल के परिजन मुआवजे और परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी पर लगाए जाने की मांग पर अड़े हुए हैं, जिससे मृतक के शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका है। सम्भवतया सुलह के प्रयास के लिए रविवार को फिर से शांति समिति की बैठक रखी जा सकती है।


पांच मामले हुए दर्ज :
जानकारी के अनुसार, बवाल में आगजनी, पथराव व फायरिंग की घटना को लेकर थाने में पांच मामले दर्ज हुए हैं, जिसमे तीन  मामले उन मीडियाकर्मियों की ओर से दर्ज करवाए गए हैं, जिनके कैमरों को नुकसान पुहंचा। वहीं सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने व राज-काज में बाधा डालने का एक मामला पुलिस की ओर से तथा एक मामला उस महिला की ओर से दर्ज करवाया गया है, जिसे पुलिसकर्मी द्वारा डंडा मारा गया था। फिलहाल पुलिस के आला अधिकारियों द्वारा सभी मामलों की जांच की जा रही है।


संवेदनशील इलाकों में भी पुलिस जाप्ता तैनात :
सुभाषचौक, माणकचौक, रामगंज, गलतागेट में धारा 144 लगी होने के साथ ही पुलिस ने किसी भी अप्रिय घटना की स्थिति को रोकने के लिए लालकोठी सहित शहरभर के उन सभी इलाकों में पुलिस जाप्ता तैनात किया है, जो इलाके संवेदनशील हैं।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.