Video : दरवाजा बंद हुए बिना ही दौड़ती रही दिल्ली में मेट्रो ट्रेन, बड़ा हादसा होने से टला - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

Video : दरवाजा बंद हुए बिना ही दौड़ती रही दिल्ली में मेट्रो ट्रेन, बड़ा हादसा होने से टला

delhi metro, metro, delhi metro (mass transportation system), delhi metro rail corporation, massive safety lapse in delhi metro, delhi metro train, delhi metro accident, dmrc, yellow line, latest news, ghitorni, kashmiri gate, gurgaon, station
नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्‍ली में सोमवार रात लापरवाही का बड़ा मामला सामने आया है, जहां दिल्ली मेट्रो की एक ट्रेन दरवाजा बंद हुए बिना ही चल पड़ी और कई किलोमीटर तक खुले दरवाजे के साथ ही दौड़ती रही। चांदनी चौक से कश्मीरी गेट तक मेट्रो ट्रेन अपनी गति से दौड़ती रही, लेकिन ट्रेन का एक दरवाजा खुला ही रहा। इस दौरान ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों की जान भी सांसत में रही। इसके बारे में जानकारी देने के लिए यात्रियों ने जब अलार्म बजाने का प्रयास किया तो वहां अलार्म भी नहीं बजा।

जानकारी के मुताबिक, घटना सोमवार की रात करीब दस बजे की है, जब मेट्रो की येलो लाइन यानी गुडग़ांव वाली लाइन पर हुड्डा सिटी सेंटर से समयपुर बदली की तरफ जा रही एक मेट्रो ट्रेन का गेट खुला रह गया था। चांदनी चौक से जब ट्रेन कश्मीरी गेट के लिए चली तो उसमें एक कोच का एक गेट बंद नही हुआ। बिना गेट बंद हुए ही चालक ने मेट्रो को चला दिया। मेट्रो में सवार यात्रियों ने इसकी वीडियो भी बना ली।

घटना के मुताबिक मेट्रो ट्रेन गुडग़ांव की तरफ से आकर विश्वविद्यालय की ओर जा रही थी। चावड़ी बाज़ार मेट्रो स्टेशन तक तो सब कुछ ठीक रहा, लेकिन चावडी बाजार से जैसे ही मेट्रो आगे बढ़ी, कोच का एक दरवाजा बंद ही नहीं हुआ। यूं तो मेट्रो के दरवाजों में सेंसर लगे होते हैं और दरवाजा बंद नहीं होने तक मेट्रो आगे नहीं बढ़ती है, लेकिन यहां कुछ ऐसी तकनीकी खराबी आई कि दरवाजा खुला होने के बावजूद मेट्रो ने रफ्तार पकड़ ली और चांदनी चौक की तरफ बढ़ गई।


टनल के भीतर पहुंचने पर मेट्रो ने और रफ्तार पकड़ ली। मेट्रो के मुसाफिरों के लिए ये बात डराने वाली थी, क्योंकि अभी तक तो मेट्रो में यही भरोसा होता है कि दरवाजा बंद होने के बाद ही मेट्रो आगे बढ़ेगी, लेकिन अगले स्टेशन यानि चांदनी चौक पहुंचने तक मेट्रो के मुसाफिरों की सांसें अटकी ही रहीं। चांदनी चौक से मेट्रो का स्टाफ भी सवार हो गया, लेकिन दरवाजा बंद नहीं हुआ, यहां तक कि कश्मीरी गेट तक भी दरवाजा खुला ही रहा।

हालांकि डीएमआरसी का कहना है कि तकनीकी खराबी की वजह से आंशिक तौर पर मेट्रो के दरवाजे खुले रह गए और अगले ही स्टेशन पर मेट्रो के स्टाफ ने एहतियात के तौर पर दरवाजे को गार्ड कर लिया, ताकि कोई हादसा न हो। इसके बाद कश्मीरी गेट पर दरवाजा बंद कर दिया गया। यही नहीं, इस मेट्रो ट्रेन को विश्वविद्यालय पर ही खाली भी करा लिया गया।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.