पेयजल समस्या पर जनता का फूटा रोष, जमकर किया प्रदर्शन - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

पेयजल समस्या पर जनता का फूटा रोष, जमकर किया प्रदर्शन

कोटा । देई कस्बे की पेयजल समस्या पर शुक्रवार को जनता का रोष फूट पडा। बडी संख्या मे विरोध प्रदर्शन के लिए जनता के सडक पर आने से सडक पर जाम लग गया। जिससे सडक पर यातायात की गति रूक गई। मोके पर पहुंची पुलिस ने सडक मार्ग पर यातायात की स्थिति को संभालते हुए वाहनो की आवाजाही शुरू करवाई। कस्बे मे जलदाय विभाग द्वारा दस दिनो मे एकबार नाममात्र के लिए पेतालीस मिनिट जलापूर्ति व्यवस्था करने से गुरूवार रात्री को चारभुजा चौक मे बैठक मे विरोध प्रदर्शन का निर्णय लिया।

दूसरे दिन लोगो की भीड चारभुजा चौक मे एकत्रित हुई ओर वहां से महिलाएं हाथो मे मटकिया ओर पुरूष नारेबाजी करते हुए जुलुस के रूप मे मेन मार्केट,गढ का चौक होते हुए उपतहसील कार्यालय के सामने नैनवां बूंदी मार्ग पर जमा हो गये। ओर उपखंड अधिकारी को बुलाने की मांग करने लगे। इस दोरान दोरान मार्ग के दोनो ओर वाहन जाम मे फंस गये। सूचना पर मोके पर देई थानाधिकारी सतवीर मीना मय पुलिस जाप्ते के पहुंचे ओर  महिलाओ से समझाइस की । इसके बाद महिलाओ ने सडक से हटकर उपतहसील कार्यालय मे जमा हुई। पुलिस ने दोनो ओर से वाहनो को निकाला।

इस दोरान करीब आधे घंटे तक वाहन फंसे रहे। उपतहसील मे लोगो की मांग पर जलदाय विभाग के एक्सईन दीपक झा पहुंचे जहां पर लोागो ने जमकर नारेबाजी की बाद मे प्रतिनिधियो से बात करने के बाद जनता के सामने पहुंचे जहां पर लोगो ने खरी खोटी सुनाते हुए सवाल जबाव किए। एक्सईन ने टेंकरो की संख्या १०० करने व अन्य समस्याओ का लिखित मे आश्वासन देने के बाद लोग वापस लोटे। इस दोरान महिलाओ ने मटकियां फोडकर अपना रोष जताया। ओर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सोंपा।

इस दोरान करवर नायबतहसीलदार हरिनारायण गुर्जर,सरपंच गीता सोनी,पंचायत समिति सदस्य सुरेन्द्र गोयल, गिरिराज सोनी,संजय जैन,व्यापार मण्डल अध्यक्ष चन्द्रप्रकाश गर्ग,औमप्रकाश जैन,सुनील शर्मा,राजेन्द्र गौड,भैरूप्रकाश जैन,हनुमान गौड सहित कई जनप्रतिनिधि व  गणमान्य नागरिक मौजूद थे। पांच दिन मे कार्रवाही नही होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी प्रशासन को देते हुए जिम्मेदारी सोंपी। 

लिखित मे दिया आश्वासन 

जनता ने कहा कि पेयजल समस्या के लिए कही बार विरोध प्रदर्शन ज्ञापन दिये जा चुके है। लेकिन कोई समाधान नही हुआ है। इसलिए अबकी बार स्थायी समाधान किया जाये। इस पर एक्सईन झा ने लिखित मे आश्वासन लिखकर दिया जिसमे अगले पांच दिनो मे पाईबालापुरा बांध मे स्थापित दोनो नलकूपो को चालु करवाकर देई मे जल सप्लाई का अंतराल तीन दिवस मे करने,जिन कर्मचारियो द्वारा राजकार्य मे लापरवाही की जा रही है उनके विरूद्ध विभागीय कायवाही कर नियमानुसार हटाया जाने,जल के बिल माफी के लिए सरकार एवम उच्चाधिकारियो को लिखे जाने,देई की रिवाईज स्कीम को अगले वित्तिय वर्ष मे स्वीकृत करवाने हेतु योजना बनवाकर भिजवाने,पेयजल सप्लाई का समय बढाकर एक घण्टे करने,कनिष्ठ अभियंता का हेडक्वार्टर देई मे रहने, पाईबालापुरा बांध के अवेध कनेक्शन को हटाकर दोषियो के विरूद्ध कार्यवाही करने का आश्वासन दिया।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.