इन समीकरणों के तहत हुई किरोड़ी मीणा की घर वापसी, राजपा विधायकों समेत हुए भाजपा में शामिल - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

इन समीकरणों के तहत हुई किरोड़ी मीणा की घर वापसी, राजपा विधायकों समेत हुए भाजपा में शामिल

jaipur, rajasthan, kirodi lal meena, RJP, BJP, bhartiya janta party, kirodi lal meena join bjp, vasundhara raje, golma devi, jaipur news, rajasthan news
जयपुर। राजस्थान में विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक कवायदों को दौर शुरू हो गया है और राजनीतिक पार्टियों ने अपनी—अपनी बिसात बिछाना शुरू कर दिया है। इसी बीच सूबे की राजनीति में आज एक बड़ा उलटफेर करने वाली एक खबर सामने आई है। कभी भाजपा के साथ चलने वाले नेता किरोड़ी लाल मीणा ने भाजपा छोड़ने के करीब नौ साल बाद आज एक बार फिर से घर वापसी की है और वे भाजपा में शामिल हो गए हैं। उनके साथ ही उनकी बनाई हुई पार्टी राजपा के तीन विधायक भी भाजपा में शामिल हो गए हैं।

राजपा विधायक किरोड़ी लाल मीणा के भाजपा में शामिल होने की चर्चाओं को आज उस वक्त बल मिला, जब प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर खासी सरगर्मियां देखी गई। भाजपा कार्यालय पर अचानक बनी इन सरगर्मियों के बीच भाजपा के कई पदाधिकारियों के पहुंचने का सिलसिला भी तेज हुआ और आखिर में किरोड़ी लाल मीणा और उनके विधायकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।

दरअसल, आज सुबह ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की किरोड़ी लाल मीणा से मुलाकात हुई थी, जिसके बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि आज किरोड़ी लाल मीणा एवं उनकी पार्टी के विधायक भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इसके बाद भाजपा मुख्यालय पर अचानक से तेज हुई सरगर्मियों ने इन चर्चाओं एवं कयासों को प्रबल संभावनाओं में तब्दील कर दिया था। इसके बाद भाजपा के आला नेताओं एवं पदाधिकारियों की मौजूदगी में किरोड़ी लाल मीणा एवं उनकी पार्टी के तीन विधायकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।



किरोड़ी लाल मीणा के साथ ही भाजपा में शामिल होने वाले विधायकों में उनकी पत्नी गोलमा देवी, गीता वर्मा और नवीन पिलानिया के नाम भी शामिल हैं। हालांकि अभी तक ये साफ नहीं हो पाया है कि किरोड़ी मीणा पूरी तरह से भाजपा में शामिल हुए हैं या फिर अपनी पार्टी राजपा का भाजपा के साथ विलय किया है।

बताया जा रहा है कि किरोड़ी लाल मीणा के भाई जगमोहन मीणा को बीजेपी की तरफ से राज्यसभा में भेजा जा रहा है। हालांकि अभी तक जगमोहन मीणा के नाम की घोषणा नहीं हुई है, लेकिन बीजेपी आलाकमान की तरफ से उनके नाम को लेकर फाइनल कर दिया गया है। मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक, जल्द ही सीएम के मंत्रीमंडल का पुर्नगठन होगा, जिसमें किरोड़ीलाल मीणा को उपमुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। यदि वे उप मुख्यमंत्री नहीं बनते हैं तो भी उन्हें बड़ा महकमा दिया जा सकता है। 



बहरहाल ऐसे में किरोड़ी के भाजपा का दामन थाम लेने के बाद अब राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनावों में जीत हासिल करने के लिए भाजपा पुरजोर कोशिशों के साथ जुटती हुई नजर आने लगी है। प्रदेश की राजनीति में हुई इस बड़े राजनीतिक उलटफेर से ऐसा प्रतीत होने लगा है कि विधानसभा चुनावों में फतेह हासिल करने के लिए भाजपा ने विरोधियों को धराशायी करने के प्रसाय तेज कर दिए हैं।

आपको बता दें कि किरोड़ी लाल मीणा संघ के स्वयंसेवक हैं और उन्होंने नागपुर से तृतीय वर्ष ओटीसी तक किया हुआ है। किरोड़ी लाला मीणा पहले भी काफी लम्बे समय तक भाजपा में रहे हैं, लेकिन नेतृत्व के मामले में उन्होंने करीब 9 साल पहले भाजपा से बगावत कर ली थी। इसके बाद उन्होंने राजपा के नाम से खुद की पार्टी बना ली थी। इसके बावजूद आज तक भी उनकी विचारधारा संघ वाली ही रही है और आज आखिरकार उन्होंने भाजपा में शामिल होकर घर वापसी कर ली है।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.