जिला यातायात प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

जिला यातायात प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न

अजमेर। अजमेर शहर में आने वाले पर्यटकों, जायरीन और महिलाओं को सुरक्षित अहसास देने के लिए अभय कमांड सेन्टर के बाद जिला प्रशासन ने एक और अहम निर्णय किया है। अब शहर के सभी टैक्सी वाहनों के चारों तरफ वाहन के नम्बर अंकित किए जाएंगे। इसके साथ ही दायीं व बायीं तरफ वाहन नम्बर के साथ ड्राइवर का नाम एवं मोबाइल नम्बर भी अंकित होगा। देर रात सफर करने वाली महिलाओं को इससे सुरक्षा की दृष्टि से अतिरिक्त राहत मिलेगी। इसके साथ ही शहर में प्रदूषण रहित वाहनों के संचालन को बढ़ावा दिया जाएगा। यातायात में बाधक बने कई डेयरी बूथों को हटाया जाएगा।

जिला कलेक्टर गौरव गोयल की अध्यक्षता में जिला यातायात प्रबन्धन समिति की अहम बैठक आज कलेक्ट्रेट में सम्पन्न हुई। जिला कलेक्टर गोयल ने परिवहन विभाग एवं यातायात पुलिस को निर्देश दिए कि शहर में यात्रियों की सुरक्षा के लिए किए जा रहे प्रयासों के तहत टैक्सी वाहनों पर आगे-पीछे नम्बर प्लेट के अलावा अब दायीं व बायीं तरफ भी वाहन नम्बर, ड्राइवर का नाम व मोबाइल नम्बर भी अंकन किया जाए। साथ ही वाहन के अन्दर भी उचित रूप से दिखायी देने वाले स्थान पर वाहन नम्बर, ड्राइवर का नाम  व मोबाइल नम्बर लिखवाया जाए।

बैठक में 11 नये रूटों पर एलपीजी, सीएनजी एवं बैट्री संचालित वाहनों को लाईसेंस देने के प्रस्ताव परिवहन मुख्यालय भिजवाने पर सहमति बनी। परिवहन विभाग महाराणा प्रताप नगर चौराहा से चन्द्रवरदायी नगर, एआईटी से अशोक उद्यान, नारेली जैन मंदिर से पुष्कर रोड प्राईवेट बस स्टैण्ड, माखुपुरा से भगवन्त यूनिवर्सिटी, माखुपुरा से इंजीनियरिंग कॉलेज, चाचियावास से दाहरसेन स्मारक, पुष्कर रोड बस स्टैण्ड से कायड विश्राम स्थली, नौसर घाटी से इंजीनियरिंग कॉलेज, अजयसर से जनाना अस्पताल, पंचवटी मोड़ से सोमलपुर तथा कल्याणी पुरा से बालू पुरा मार्ग पर प्रदूषण रहित वाहनों के संचालन के प्रस्ताव मुख्यालय को भेजगा।

शहर में कई स्थानों पर चलेंगे सिर्फ ई-रिक्शा
गोयल ने बताया कि बैठक में डिग्गी बाजार टैक्सी स्टैण्ड को हजारी बाग स्थानान्तरित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। सूफी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह आने वाले जायरीन को दिल्ली गेट से निजाम गेट तक लाने व ले जाने के लिए बैटरी संचालित छोटे ई-रिक्शा चलाएं जाएंगे। दरगाह बाजार, नया बाजार, डिग्गी चौक, पुरानी मंडी एवं नला बाजार में ऑटो रिक्शा जैसे वाहनों का प्रवेश प्रतिबन्धित कर र्ई-रिक्शा संचालन को मंजूरी दी गई। इसी तरह नेशनल हाइवे से संबंधित रूट पर नेशनल हाइवे अथॉेरिटी द्वारा स्लिप लेन तैयार करने पर छोटे वाहनों का संचालन किया जा सकेंगा।

उन्हाेंने बताया कि रेलवे से चर्चा कर अधिक से अधिक ट्रेनों  का संचालन मदार व दौराई रेलवे स्टेशन से करने तथा नये रेलवे ओवर ब्रिज बनवाएं जाएंगे। चौराहों की रिमॉडलिंग के तहत सावित्री स्कूल चौराहे को विकसित किया जाएगा। यहां सावित्री स्कूल एवं अन्य सरकारी कार्यालयों से भूमि लेकर चौराहे पर स्लिप लेन विकसित की जाएगी साथ ही  विद्युत विभाग के कलेक्शन सेन्टर को हटाकर रोड चौड़ा किया जाएगा। यातायात पुुलिस को निर्देश दिए गए कि बालवाहिनी वाहनों को स्कूल के अन्दर ही पार्किग की जाए।

जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि जवाहरलाल नेहरू चिकित्सालय के बाहर रोड पर एम्बुलैंस की पार्किग, चौपाटी के बाहर बसों की पार्किग, अवैध रूप से खड़े होने वाले ठेले, कलेक्ट्रेट के आसपास अवैध रूप से ठेले व थड़ियाँ, अस्पताल के बाहर सड़क पर लगने वाले खाद्य पदार्थों की स्टॉल व थड़ियाँ तुरन्त हटवायी जाए। इसके साथ ही कलेक्ट्रेट, पुरानी आरपीएससी, जयपुर रोड, राजस्व मण्डल रोड़ एवं अन्य सड़कों पर यातायात में बाधा बनी डेयरी की गुमटियां शीघ्र हटवायी जाएगी। साथ ही व्यावसायिक भवनों में पार्किंग की सख्ती से पालना करवायी जाएगी।

उन्होंने बताया कि शहर में अरबन हाट के पास वैशाली नगर, आगरा गेट सब्जी मण्डी सहित विभिन्न स्थानों पर मल्टीलेवल पार्किंग, किशनगढ़, ब्यावर, केकड़ी, पुष्कर एवं अन्य स्थानों पर यातायात का दबाव कम करने के लिए प्रस्तावों को मंजूरी दी गई।

इसी तरह ट्रांसपोर्ट नगर से व्यापार का संचालन शुरू करने के लिए आगामी 30 जून भारी वाहनों का प्रवेश शहर में पूर्णतया बन्द कर दिया जाएगा। अजमेर विकास प्राधिकरण ट्रांसपोर्ट के भूखण्ड धारकों से चर्चा कर तय करेगा कि सभी भूखण्ड धारक वहां निर्माण कार्य निर्धारित अवधि में करके अपना व्यापार शुरू करें।

बैठक में महापौर धर्मेंद्र गहलोत, अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर अरविन्द सेंगवा, पुलिस उपअधीक्षक यातायात प्रीति चौधरी, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी विनोद कुमार सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.