पेयजल वितरण के मामलों में कोताही बर्दाश्त नहीं होगी : देवनानी - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

पेयजल वितरण के मामलों में कोताही बर्दाश्त नहीं होगी : देवनानी

अजमेर।  शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि आने वाली गर्मियों में किसी क्षेत्र में पीने के पानी की कठिनाई नही हो, इसके लिए अधिकारी संवेदनशीलता से कार्य करें। उन्होंने पेयजल अधिकारियों से कहा कि पेयजल वितरण के मामलों में किसी स्तर पर कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

देवनानी मंगलवार को जल भवन में आयोजित पेयजल अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने  कहा कि कॉलोनियाें में पानी पूरा प्रेशर से तथा शुद्ध उपलब्ध हो, गंदा पानी वितरण की शिकायत मिलते ही अधिकारी स्वयं मौके पर जाकर देखे। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में नयी पाइपलाइन डाली गई है वहां पानी टेल तक पहुंचे यह सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने कहा कि अजमेर शहर को उपलब्धता के अनुसार पूरा पानी मिले। इसके लिए अधीक्षण अभियंता स्वयं देखे। वर्तमान में शहर को 10 एमएलडी पानी कम मिल रहा है। जिससे कुछ क्षेत्रों में पानी की कठिनाई है। जिसे शीघ्र दूर किया जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि पेयजल वितरण का टाईम टेबुल तय किया जाए तथा उसी अनुसार वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

देवनानी ने बताया कि शहर की कई नई कॉलोनियों में लगभग 13 करोड़ 50 लाख की 60 किलोमीटर लम्बी नई पाइपलाइने स्वीकृत की गई है। इसमे से 16 किलोमीटर पाईपलाइन डालने का कार्य पूर्ण हो चुका है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि शेष पाईपलाइन 15 मई से पूर्व डाली जाए ताकि आने वाली गर्मियों में किसी क्षेत्र में पेयजल की कठिनाई ना हो। उन्होंने बताया कि शहर में 24 घण्टे के अन्तराल पर पेयजल वितरण के लिए 20-20 एमएलडी के 2 स्टोरेज टैंक बनाने का कार्य चल रहा है जो शीघ्र पूर्ण हो जाएगा। इसके साथ ही 97 करोड़ की योजना भी पेयजल के लिए बनायी गई है। जिसकी डीपीआर तैयार होकर कार्यादेश जारी किए गए है।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अवैध कनेक्शनों को हटाने का कार्य सख्ती से करे। इसमें पुलिस की आवश्यकता हो तो सहयोग लिया जाए। इसके साथ ही हैण्डपम्प मरम्मत का कार्य भी प्रारंभ कर दिया जाए। जहां नई पाईपलाइन डाली गई वहां सड़क मरम्मत कार्य तत्काल करवाया जाए। विभाग के कनिष्ठ एवं सहायक अभियंता पेयजल वितरण के दौरान नियमित भ्रमण पर रहे तथा पेयजल वितरण सुचारू रूप से करावें। उन्होंने कहा कि पेयजल कार्यों के लिए धन की कोई कमी नहीं है।

    बैठक में वार्ड संख्या 1 के आजाद नगर एवं सरपंच का बाड़िया, वार्ड संख्या 2 के प्रगति नगर, पसंद नगर, सूर्यनगरी पुष्कर रोड, वार्ड संख्या 3 में अम्बे विहार, कृष्णा विहार, दयानन्द कॉलोनी, गीता कॉलोनी, वार्ड संख्या 4 में बड़ी नागफनी एवं शिव शक्ति कॉलोनी, वार्ड संख्या 55 में आतेड़ बस्ती, शान्तिपुरा, वार्ड संख्या 60 मे ंगणपति नगर, खाटूश्याम क्षेत्र, रातीडांग, वार्ड संख्या 59 में किसान कॉलोनी, अलखनंदा कॉलोनी, फे्रंड्स कॉलोनी, वार्ड संख्या 11 में डिग्गी बाजार, घसीटी बाजार, वार्ड संख्या 7 में नवल नगर, वार्उ संख्या 53 में होलीदड़ा, सरावगी मौहल्ला, वार्ड संख्या 45 में कालू की ढाणी, कुन्दन नगर, वार्ड संख 52 में पूरानी मण्डी, घास कटला, काजीपुरा, बोराज, डिफेंस कॉलोनी, हाथीखेड़ा, वार्ड संख्या 49 में लोहाखान, भोपो का बाड़ा तथा वार्ड संख 8 में वाल्मिकी चौक एवं सुभाष मौहल्ले सहित संबंधित क्षेत्रों में पेयजल कम आने, बिना प्रेशर के आने तथा गंदा पानी आने के संबंध में समीक्षा की गई तथा तत्काल समस्याओं को दूर करने के निर्देश दिए गए।

    बैठक में विभाग के अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री नेमाराम परिहार ने कहा कि अजमेर शहर को प्रतिदिन 145 एमएलडी पानी की आवश्यकता रहती है। उसी अनुरूप पेयजल की वितरण व्यवस्था की जाएगी।

    बैठक में समस्त अधीक्षण अभियंता, अधिशाषी अभियंता, सहायक अभियंता एवं कनिष्ठ अभियंता उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.