स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट : एलिवेटेड रोड के संबंध में हुआ विचार विमर्श - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट : एलिवेटेड रोड के संबंध में हुआ विचार विमर्श

अजमेर। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत केंद्र सरकार के निर्देशानुसार एवं स्मार्ट सिटी दिशा निर्देशों के प्रावधानों के तहत हाल ही गठित सिटी लेवल एडवाईजरी फोरम की पहली बैठक रविवार को जिला कलेक्टर आरती डोगरा की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गयी।

फोरम के सदस्यों के रूप में शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री अनिता भदेल, अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष शिव शंकर हेड़ा, नगर निगम के महापौर धर्मेंद्र गहलोत, स्थानीय स्वयं सेवी संगठन, स्थानीय युवा, विभिन्न विभागों में कार्यरत तकनिकी अधिकारीगण सहित विशेष आमंत्रित सदस्य अजमेर डेयरी के अध्यक्ष रामचन्द्र चौधरी एवं जिला पत्राकार संघ के अध्यक्ष दीनबंधु चौधरी भी उपस्थित थे।

बैठक में एलिवेटेड रोड पर खुली चर्चा हुई। जिसमें शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री अनिता भदेल, अजमेर डेयरी अध्यक्ष रामचन्द्र चौधरी तथा जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष दीनबंधु चौधरी ने अपने सुझाव दिये। प्रमुख रूप से मार्टिण्डल ब्रिज - एलिवेटेड रोड़ के जंक्शन पर यातायात में होने वाली संभावित असुविधा को दूर करने के सुझाव दिये गये। इस पर विस्तृत चर्चा के दौरान स्थानीय प्रशासनिक एवं परिवहन अधिकारी तथा ठेकेदार फर्म के विशेषज्ञों ने यह स्पष्ट किया कि इस जंक्शन पर यातायात प्रबंधन के वे सभी उपाय लागू किये जायेंगे, जिससे कि यातायात की किसी को कठिनाई नहीं हों।

बैठक में अजमेर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष शिवशंकर हेड़ा ने सुझाव दिया कि एलिवेटेड रोड को महावीर सर्किल से आगे बढ़ाकर बजरंग चौराहे तक कर दिया जायें। लेकिन इसे तकनिकी रूप से सदस्यों ने उचित नहीं माना तथा यह तय किया गया कि महावीर सर्किल से बजरंग चौराहे तक सड़क को अधिक सुविधाजनक बनाया जायेगा। मार्टिण्डल ब्रिज से ब्यावर रोड़ की ओर उतरने वाली सड़क के बीच में आ रही दुकानों के बारे में महिला एवं बाल विकास  राज्यमंत्री ने चर्चा की। जिस पर निर्णय लिया गया कि मार्टिण्डल ब्रिज से काॅलेज चौराहे तक की सड़क पर हो रहे अतिक्रमण हटा कर आवश्यकतानुसार भूमि अवाप्त कर इसे बेहत्तर करने का कार्य अलग से हाथ में लिया जायेगा। जिसमें आवश्यकतानुसार रेलवे से भी भूमि की पट्टी देने का आग्रह एवं प्रयास किया जायेगा।

बैठक में एलिवेटेड रोड पर विस्तार से चर्चा कर सुझाव लिये गये। प्रारंभ में एलिवेटेड रोड़ पर बनायी गयी एक लघु डाॅक्युमेन्ट्री फिल्म को प्रदर्शित किया गया, जिसमें अजमेर में प्रस्तावित इस एलिवेटेड रोड के प्रमुख बिन्दू यथा लम्बाई, तकनिकी विशेषताएं, होने वाले व्यय आदि की विस्तार से जानकारी दी गयी। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी हिमांशु गुप्ता एवं ठेकेदार फर्म के प्रतिनिधि अक्षय हाडा एवं अनुराग मिश्रा ने पावर पाईन्ट प्रजेन्टेशन के माध्यम से डिजाईन एवं निर्माण सामग्री एवं निर्माण की योजना के बारे में जानकारी दी।

इस मौके पर जिला पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह चौधरी, अतिरिक्त जिला कलेक्टर शहर अरविन्द कुमार सेंगवा, यातायात उप अधीक्षक प्रीति चौधरी सहित स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के समस्त अधिकारीगण उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.