जनता को हुई परेशानी तो अफसर होंगे जिम्मेदार : देवनानी - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

जनता को हुई परेशानी तो अफसर होंगे जिम्मेदार : देवनानी

अजमेर। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने विद्युत और जलदाय विभाग के अधिकारियों को बिजली और पानी से संबंधित समस्याओं के तुरंत निराकरण के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि बारिश का मौसम आ गया है। ऐसे में दोनों विभाग पूरी तरह अलर्ट रहें। बिना पूर्व सूचना के शट डाउन नहीं लें। जहां भी लाइन डालने के लिए सड़के खुदवाई जा रही हैं, वहां उन्हें तुरंत रिपेयर किया जाए। जनता को किसी भी तरह की परेशानी हुई तो इसके लिए अधिकारी जिम्मेदार होंगे।

शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने आज सर्किट हाउस में अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड, टाटा पावर तथा जलदाय विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्रा में विकास पर सैकड़ों करोड़ रुपए खर्च किए हैं। करीब दो हजार करोड़ रुपए की लागत से शहर स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित हो रहा है। शहर के लोगों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने में हमने कोई कमी नहीं छोड़ी है। अधिकारी संवेदनशील होकर बिजली, पानी जैसी सुविधाओं की शत प्रतिशत उपलब्धता सुनिश्चित करें। आमजन को किसी तरह की परेशानी होती है तो इसके लिए अफसरों की जवाबदेही तय की जाएगी।

उन्होंने जलदाय विभाग के अधिकारियों से चर्चा करते हुए कहा कि अभी भी कई क्षेत्रों से अनियमित जलापूर्ति की शिकायत मिल रही है। कई क्षेत्रों में कम दबाव से पानी आ रहा है तथा विभिन्न क्षेत्रों में पाइप लाइन डालने के बाद सडक़ों को रिपेयर नहीं किया गया है। बारिश का मौसम सामने है। तुरंत इन कमियों को दूर किया जाए। उन्होंने कहा कि अजमेर उत्तर विधानसभा क्षेत्रा के लिए 73 किलोमीटर लम्बी नई पाइप लाइन स्वीकृति हुई है। इनमें से 46 किलोमीटर लाइनें विभिन्न वार्डों में डाली जा चुकी हैं। शेष 29 किलोमीटर लाइन भी जुलाई माह में डाली जाएगी ताकि लोगों को इसका फायदा मिल सके।

उन्होंने शहर में जलदाय व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए नई पानी की टंकी बनाने, नई पाइप लाइन तथा अन्य विकास कार्यों के प्रस्तावों को शीघ्र मंजूरी देने के लिए जलदाय विभाग के मुख्य अभियंता से फोन पर भी बातचीत की। उन्होंने कहा कि गुरुवार को जलदाय विभाग का एक वरिष्ठ अधिकारी जयपुर जाकर इन प्रस्तावों को मंजूरी दिलाएगा। देवनानी ने नए हैंडपम्प शीघ्र खुदवाने, खराब पड़े हैंडपम्पों की शीघ्र मरम्मत तथा अन्य कार्य भी जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए।

शिक्षा राज्यमंत्री विद्युत व्यवस्था में सुधार के लिए टाटा पावर के अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने कहा कि शहर के कई वार्डों से लोगों ने विद्युत बिल अत्यधिक रूप से ज्यादा आने की शिकायत की है। टाटा पावर देखे कि इतना ज्यादा बिल कैसे आ रहा है। कहीं गड़बड़ हुई है तो तुरंत उपभोक्ता को राहत प्रदान करे। कई जगहों पर तार नीचे लटके हुए हैं। कई पेड़ों पर भी तार आ रहे हैं। कई जगहों पर ट्रांसफार्मर पर्याप्त सुरक्षित ऊंचाई पर नहीं है। बारिश के मौसम को देखते हुए अधिकारी अभी से ही इन अव्यवस्थाओं को दूर करें ताकि किसी भी तरह की जनहानि से बचा जा सके।

उन्होंने कहा कि शहर की विभिन्न कालोनियों से ट्रिपिंग तथा अघोषित कटौती जैसी शिकायतें मिल रही हैं। अधिकारी इस पर विशेष ध्यान दें। विद्युत और जलदाय विभाग बिना पूर्व सूचना के शट डाउन नहीं लेंगे। बैठक में दोनों विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.