सीनियर सैकंडरी स्कूलों में होगी कंप्यूटर लैब, शिक्षा विभाग एवं इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के बीच एमओयू संपन्न - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

सीनियर सैकंडरी स्कूलों में होगी कंप्यूटर लैब, शिक्षा विभाग एवं इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के बीच एमओयू संपन्न

अजमेर। अब अजमेर जिले के सभी राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कम्प्यूटर लैब होगी। शहरों और गांवों में इन स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को निजी स्कूलों से बेहतर कम्प्यूटर शिक्षा उपलब्घ हो सकेगी। शिक्षा विभाग इन स्कूलों को जयपुर में तैयार ई स्टूडियो के माध्यम से कम्प्यूटर की शिक्षा देगा।
   
शिक्षा विभाग एवं इण्डियन कॉर्पोरेशन के बीच आज अजमेर जिले में शेष रहे 113 स्कूलों में 85.69 लाख रूपए की लागत से आईसीटी लैब स्थापित करने के लिए एमओयू संपन्न हुआ। शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी, जिला कलेक्टर आरती डोगरा एवं आईओसी के कार्यकारी निदेशक रवीन्द्र गर्ग की उपस्थिति में यह एमओयू किया गया। इन 113 स्कूलों में आईसीटी लैब स्थापित होने के साथ ही जिले के सभी 491 राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालयों में आईसीटी लैब की सुविधा उपलब्ध होगी।
   
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा डिजीटल इंडिया, डिजीटल राजस्थान के लिए किए जा रहे प्रयासों की कड़ी में अजमेर जिला एक अहम मुकाम हासिल करने जा रहा है। जिले के सभी सीनियर सैकण्डरी सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों को कम्प्यूटर लैब की सुविधा उपलब्घ होगी। राजस्थान में 14 हजार स्कूलों में कम्प्यूटर लैब की सुविधा उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है।
   
उन्होंने कहा कि इन सभी स्कूलों में जयपुर में हाल ही में 3 करोड़ रूपए की लागत से तैयार कराए गए ई स्टूडियों के माध्यम से पढ़ाई करायी जाएगी। अगले चरण में राजस्थान के सभी मिडिल स्कूलों में बिजली एवं पानी की उपलब्धता के साथ कम्प्यूटर लैब की सुविधा भी दी जाएगी। राजस्थान के सरकारी स्कूलोें में पढ़ने वाली युवा पीढ़ी को यह हमारी सबसे महत्वपूर्ण देन है।
   
जिला कलेक्टर आरती डोगरा ने कहा कि अजमेर जिले के स्कूलों में कम्प्यूटर शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए विभिन्न एजेंसियों के माध्यम से आईसीटी लैब स्थापित करने का काम किया गया है। राज्य सरकार द्वारा विभिन्न चरणों में 241 स्कूलों में आईसीटी लैब की स्थापना की गई है। आईओसी की सहायता से 182 स्कूलों में आईसीटी लैब स्थापित की जा रही है। इसी प्रकार डीएमएफटी के तहत 45, विधायक सांसद कोष से 15 तथा स्मार्ट सिटी योजना के तहत 8 स्कूलों में लैब की स्थापना की जा रही है। इन स्कूलों में पढ़ने वाले प्रत्येक विद्यार्थी को कम्प्यूटर की शिक्षा उपलब्ध होगी।
   
आईओसी के कार्यकारी निदेशक रवीन्द्र गर्ग ने कहा कि इण्डियन ऑयल कॉर्पोरेशन अपने सामुदायिक दायित्व के तहत पूरे देश में महिला सशक्तिकरण, सैनिटेशन एवं स्कूलों के उन्नयन के लिए इस साल 450 करोड़ रूपए खर्च करेगी। और भी अधिक राशि का प्रावधान किया जा रहा है। हम समाज के उन्नयन के प्रति संकल्पबद्ध हैं।
   
इस अवसर पर आईओसी के उप महाप्रबंधक शशांक शेखर, जिला शिक्षा अधिकारी तेजपाल उपाध्याय, एडीपीसी राम निवास गालव एवं अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी दर्शना शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.