सिंधी लिपि के संरक्षण और संवर्धन के लिए सिंधी संगत द्वारा सेमिनार का हुआ आयोजन - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

सिंधी लिपि के संरक्षण और संवर्धन के लिए सिंधी संगत द्वारा सेमिनार का हुआ आयोजन

अजमेर। अंतर्राष्ट्रीय सिंधी संस्था "सिंधी संगत" द्वारा आधुनिक तकनीकों के माध्यम से सिंधी भाषा के संरक्षण एवं संवर्धन हेतु रामगंज स्थित कृष्णा बैंक्वेट हॉल में एक भव्य सेमिनार का आयोजन किया गया, जिसमें शिक्षा जगत से जुड़े 70 संभागीयों ने भाग लिया।

दुबई से पधारी "सिंधी संगत संस्था" की सचिव आशा चांद ने कहा कि डिजिटल जगत से जुड़कर सिंधी को संरक्षित किया जा सकता है, लर्न सिंधी एवं अचो सिंधी सिखुं बाल गीत एवं बाल कहानियां यूट्यूब पर हैं जिसको तीन लाख से अधिक लाइक मिले हैं, हजारों ने देखा है। सिंधी लिपि प्रथम कक्षा से ही सिखाई जाने की आवश्यकता है।

 सेमिनार की संयोजिका डॉ. कमला गोकलानी ने बताया कि सेमीनार में अहमदाबाद से पधारे डॉ. जेठो लालवानी, सुधार सभा अजमेर से ईश्वर ठारणी, प्रभु ठारणी, माहेश्वरी गोस्वामी, ढोलन राही, राजकीय महाविद्यालय अजमेर, डॉ. हासो दादलानी ने संबोधित संबोधित किया तथा संभागियों की शंकाओं का समाधान भी किया। स्थानीय समितियों का गठन किया गया ताकि आने वाले कार्यक्रमों को क्रियान्वित किया जा सके। स्कूलों के प्राचार्य, अध्यापकों ने प्रश्न पूछे जिनका समाधान हुआ। सिंधी संगीत समिति के पदाधिकारियों घनश्याम, रमेश चेलानी, मनोहर मोटवानी आदि ने आशा को शॉल ओढाकर कर एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर उनका अभिनंदन किया। कार्यक्रम संबंधी अन्य सभी व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी सेमिनार सह संयोजक भरत गोकलानी ने निभाई। अंत में डॉ. कमला गोकलानी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.