उर्स की तैयारियों के कार्य समयबद्धता के साथ करें : कलेक्टर - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

उर्स की तैयारियों के कार्य समयबद्धता के साथ करें : कलेक्टर

अजमेर। जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि आगामी माहों में आयोजित होने वाले उर्स की तैयारियों को समयबद्धता के साथ करें। अधिकारी अपने जिम्मे का यह कार्य फरवरी के प्रथम सप्ताह से प्रारम्भ कर दें। इसमें किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाए।
   
जिला कलेक्टर शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित उर्स 2019 की तैयारी एवं सर्माट सिटी प्रोजेक्ट की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उर्स के दौरान मेला क्षेत्र में बिजली के तार व्यवस्थित कर दिए जाएं। वहीं पानी की मेला अवधि में अतिरिक्त मांग रहेगी। इसके लिए 10 एमएलडी अतिरिक्त पानी के लिए प्रस्ताव तैयार किए जाए। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान बाहर से आने वाले जायरीनों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं हो। इसके लिए समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए।
   
उन्होने उर्स के दौरान कायड़ विश्राम स्थली से शहर के लिए यातायात की व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त बसों का संचालन करने के लिए जिला परिवहन अधिकारी को तथा सड़कों के पैच वर्क ठीक करने के लिए सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को भी निर्देश दिए।

कंटीजेंसी प्लान में कोताही नहीं बरते
जिला कलेक्टर ने आने वाली गर्मियों में पेयजल के लिए तैयार किए गए कंटीजेंसी प्लान की भी समीक्षा की। प्लान में जिलेभर में थ्री फेस के 220 टयूबवैल तथा सिंगल फेस के 463 टयूबवैल खोदे जाएंगे। इसी प्रकार अजमेर शहर के लिए थ्री फेस के 75 टयूबवैल तथा सिंगल फेस के 17 टयूबवैल खोदे जाएंगे। उन्होंने इस कार्य में किसी प्रकार की कोताही बरतने के भी निर्देश दिए।

टाटा पावर कम्पनी को मासिक रूप से बिलिंग करने के निर्देश
जिला कलेक्टर ने सर्माट सिटी प्रोजेक्ट के कार्यों की समीक्षा करते हुए टाटा पावर कम्पनी को निर्देश दिए कि वे उपभोक्ताओं को मासिक रूप से बिल प्रदान करें। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता नहीं होनी चाहिए। साथ ही शहर में प्री पेड मीटर लगाने के भी प्रस्ताव तैयार करें। उन्होने कहा कि सभी प्रकार की केबल एक ही जगह पर रहे तथा पानी की लाइन  अलग रहे। इसके लिए इंटीग्रेट अण्डर ग्राउंड कोरिडोर का प्रस्ताव तैयार करने के लिए संभावित सड़कों को चिन्हित करें तथा उसका प्रोजेक्ट/डिजाईन तैयार कर प्रस्तुत करें। उन्होंने ब्रह्मपुरी नाले पर बीच में आ रहे पोलों को शिफ्ट करने का कार्य शीघ्र करने के निर्देश दिए। इसके लिए एस्टीमेट शीघ्र तैयार किए जाए।
   
उन्होंने पेयजल व्यवस्था सुदृढ़ीकरण के लिए तैयार 354 करोड़ रूपए के प्रोजेक्ट को स्मार्ट सिटी बोर्ड मिटिंग में प्रस्ताव रखने के निर्देश दिए ताकि स्वीकृत होते ही उसकी डीपीआर तैयार की जा सके। उन्होंने जिला परिवहन अधिकारी को निजी बस स्टैण्ड को प्रारम्भ करने तथा यातायात संबंधी समस्याओं के संबंध में जिला यातायात सलाहकार समिति की बैठक 23 जनवरी को बुलाने के निर्देश दिए।
   
बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर एम.एल.नेहरा एवं अबु सूफियान चौहान सहित स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट, जलदाय विभाग, विद्युत विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, परिवहन विभाग, अजमेर विकास प्राधिकरण, टाटा पावर के अधिकारीगण उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.