शान्ति समिति के सदस्य प्रशासन के आंख व कान बनकर सहयोग करें : कलेक्टर - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

शान्ति समिति के सदस्य प्रशासन के आंख व कान बनकर सहयोग करें : कलेक्टर

अजमेर।  जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने कहा कि शान्ति समिति के सदस्य अपने -अपने क्षेत्र में पूर्ण नजर रखते हुए प्रशासन के आंख व कान बनकर सहयोग करें तथा जिले में शान्ति एवं सोहार्द बनाए रखने में मदद करें।
     
जिला कलेक्टर सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित शान्ति समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्व लोगों में अशान्ति एवं घृणा पैदा करने का प्रयास करते है। ऎसे में समिति के सदस्य सचेत रहकर उन्हें इसमें सफल नहीं होेने दें। समिति के सदस्य जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के आंख और कान होते है। किसी भी अप्रिय बात की जानकारी समिति के सदस्य प्रशासन को दें तथा ऎसे लोगों पर नजर रखते हुए शान्ति से निपटे।
     
उन्होंने कहा कि समिति के सदस्य संवदा बनाए रखें तथा सोहार्द पूर्ण वातावरण के लिए सहभागी बने। जिले में सामप्रदायिक सोहार्द और शान्ति कायम रखना हम सभी का दायित्व है। आगामी उर्स एवं गत दिनों हुए पुलवामा में हुए हादसे को देखते हुए सोहार्द पूर्ण वातावरण बनाया जाना जरूरी है। इसे लिए लोगों को समझाईश भी की जाए। उन्होंने कहा कि समिति के सदस्य सोशल मीडिया एवं वाहट्सअप ग्रुप में चल रहे संदेशों के प्रति भी सचेत रहे। पुष्कर में कैमल सफारी के लिए तथा लाउड स्पीकर तेज आवाज में चलाए जाने के संबंध में प्राप्त सुझावों पर पूर्ण ध्यान दिया जाएगा। वहीं पोल्ट्री फॉर्म भी नियमानुसार चले। इसका प्रयास होगा।
     
बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक कुवंर राष्ट्रदीप ने कहा कि असामाजिक तत्वों के संबंध में प्राप्त सूचनाओं पर तत्काल कार्यवाही की जाएगी। ऎसे तत्वों की कार्यवाही में सहभागी नहीं बनते हुए उसकी सूचना तत्काल पुलिस प्रशासन को दी जाए। अशान्ति रोकने के लिए पुलिस सदैव तत्पर है। ऎसे में लोगों को भी समझाईश करें तथा व्यवस्था बनाए रखने में प्रशासन का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि यूथ क्लब को पुनः प्रभावी बनाया जाएगा तथा थानावार सीएलजी की मीटिंग प्रति दो माह में किए जाने के प्रयास भी होंगे।
     
जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि विभाग में स्टाफ की कमी है। लेकिन संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त जाप्ता रहेगा। महत्वपूर्ण धार्मिक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए जन सहयोग से प्रयास करेंगे। वहीं दरगाह क्षेत्र में अस्थायी अतिक्रमणों को हटाया जाएगा। डीजे म्यूजिक अधिक तेज आवाज में नहीं बजे इसके ध्वनि प्रदूषण नियंत्रण नियमों की पालना की जाएगी।
     
बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर एम.एल.नेहरा, उपखण्ड अधिकारी अंजलि राजोरिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीआईडी जोन सुरेन्द्र सिंह भाटी सहित जिले भर से आए शान्ति समिति के सदस्य तथा प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.