आरक्षण विधेयक पारित होने पर बसपा विधायक अवाना ने जताया सीएम गहलोत का आभार - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

आरक्षण विधेयक पारित होने पर बसपा विधायक अवाना ने जताया सीएम गहलोत का आभार

Jaipur, Rajasthan, Nadbai MLA, bsp mla, joginder singh awana, gurjar aarakshan, gurjar aandolan, reservation bill passed in rajasthan assembly, gurjar reservation agitation, jaipur news, rajasthan news
जयपुर। राजस्थान में पिछले 6 दिनों से जारी गुर्जर आंदोलन के बीच आज राज्य सरकार ने विधानसभा में आरक्षण विधेयक को सर्वसम्मति से पारित करवा लिया है। इस विधेयक में गुर्जरों समेत 5 जातियों - बंजारा/बालदिया/लबाना, गाडिया लोहार/गाडोलिया, गुर्जर/गुजर, राइका/रैबारी/देबासी और गडरिया/गाडरी/गायरी को पांच प्रतिशत आरक्षण के साथ राज्य में पिछड़ा वर्ग आरक्षण को मौजूदा 21 प्रतिशत से बढाकर 26 प्रतिशत करने का प्रावधान किया गया है। ऐसे में बसपा विधायक जोगिंदर सिंह अवाना ने आरक्षण विधेयक पारित कराए जाने के लिए गहलोत सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया।

राजस्थान विधानसभा में आज सर्वसम्मति से पारित कराए गए आरक्षण विधेयक को लेकर नदबई से बसपा के विधायक जोगिंदर सिंह अवाना ने गहलोत सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया है, वहीं अवाना ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार पर निशाना भी साधा। अवाना ने कहा कि पिछली बार जब गुर्जर आरक्षण हुआ था, तब कई लोगों की जाने भी गई थी, जिसके लिए गुर्जर समाज कभी भी भाजपा को माफ नहीं कर सकेगा। इसके साथ ही अवाना ने गहलोत सरकार की कुशलता की सराहना करते हुए कहा कि पिछले 6 दिनों से आंदोलन चल रहा है, लेकिन इस बीच किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं हुई, जो कि गहलोत सरकार के कुशल प्रबंधन को दर्शाता है। इसके लिए गहलोत सरकार धन्यवाद की पात्र है।

इसके साथ ही बसपा विधायक अवाना ने गुर्जर समाज के लोगों से भी आंदोलन समाप्ति की ओर कदम बढ़ाने का आग्रह किया है। आरक्षण विधेयक पर अवाना ने कहा कि विधानसभा में पारित हो चुके इस बिल को केंद्र से सभी सदस्य मिलकर मंजूरी दिलाएंगे और जल्द से जल्द इसे संविधान की 9वीं सूची में डलवाकर आरक्षण लागू कराएंगे।

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में पिछले 6 दिन से चले आ रहे गुर्जर आरक्षण आंदोलन को लेकर आज विधानसभा में अशोक गहलोत सरकार की ओर से पेश किया गया आरक्षण विधेयक सर्व सम्मति से पारित हो गया है। विधेयक में राज्य में पांच अति पिछड़ी जातियों — बंजारा/बालदिया/लबाना, गाडिया लोहार/गाडोलिया, गुर्जर/गुजर, राइका/रैबारी/देबासी और गडरिया/गाडरी/गायरी को पांच प्रतिशत आरक्षण के साथ राज्य में पिछड़ा वर्ग आरक्षण को मौजूदा 21 प्रतिशत से बढाकर 26 प्रतिशत करने का प्रावधान किया गया है।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.