अजमेर में कला उत्सव 27 से 30 तक - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

अजमेर में कला उत्सव 27 से 30 तक

अजमेर। अजमेर जिला प्रशासन एवं पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग राजस्थान द्वारा अजमेर एवं राजस्थान स्थापना दिवस के अवसर पर विशाल कला उत्सव का आयोजन 27 से 30 मार्च को किया जाएगा
   
जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विश्व मोहन शर्मा ने बताया कि इस चार दिवसीय कला उत्सव में कला और संस्कृति से जुड़ी अनेक गतिविधियां आयोजित की जाएगी साथ ही स्वीप के तहत अधिक से अधिक मतदान हेतु लोगों को प्रेरित भी किया जाएगा।
     
शर्मा ने बताया कि यह आयोजन पृथ्वीराज फाउंडेशन व लोक कला संस्थान के सहयोग से किया जाएगा। इस दौरान फोटोग्राफी, पेंटिंग, स्कल्पचर, फिलेटलिक, पुरा वस्तुओं सहित स्वीप गतिविधियों की प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। राजस्थान के अनेक शहरों व अजमेर के प्रबुद्ध कलाकारों द्वारा आर्ट कैंप का आयोजन किया जाएगा जिसमें सभी कलाकार राजस्थान की धरोहर और संस्कृति व मतदान के लिए प्रेरित करने वाली पेंटिंग्स बनाएंगे।
   
इसी क्रम में रंगोली, मांडना, मिनिएचर, फड़, वाटर कलर, पोट्रेट व क्ले मॉडलिंग की कार्यशाला भी आयोजित की जाएंगी।
   
27 मार्च को अजमेर स्थापना दिवस पर अजमेर में पर्यटन की अपार संभावनाएं विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा व इसी दिन विश्व रंगमंच दिवस के अवसर पर प्रसिद्ध रंगकर्मी राजेंद्र सिंह अजमेर के इतिहास व संस्कृति पर आधारित नाटक हरदिल अजीज अजमेर का मंचन करेंगे।

28 मार्च को कला संवाद का भी आयोजन किया जाएगा। 30 मार्च को राजस्थान दिवस के अवसर पर स्वीप मशाल रैली का आयोजन किया जाएगा। यह रैली गांधी भवन से शुरू होकर नगर निगम, पुरानी मंडी, नया बाजार, गोल प्याऊ होते हुए राजकीय संग्रहालय पहुंचेगी वहां मतदान का संदेश देते हुए भव्य राजस्थानी मांडना बनाया जायेगा जिस के समक्ष दीपदान किया जाएगा।
   
सोमवार को इस संदर्भ में कलेक्ट्रेट में एक बैठक का आयोजन किया गया जिसमें स्वीप प्रभारी गजेंद्र सिंह राठौड़, प्रशिक्षु आईएएस तेजस्वी राणा,  उप जिला शिक्षा अधिकारी दर्शना शर्मा, पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग अजमेर के वृत अधीक्षक नीरज त्रिपाठी, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के  उपनिदेशक महेश चंद्र शर्मा, पृथ्वीराज फाउंडेशन के सचिव दीपक शर्मा लोक कला संस्थान के निदेशक संजय कुमार सेठी, अखिलेश जोशी, डॉ. राकेश कटारा मैं आयोजन की रूपरेखा तय की वह बैठक के उपरांत राजकीय संग्रहालय जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया ।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.