कांग्रेस नेता ने इलेक्शन कमीशन से की पीएम मोदी की बायोपिक की रिलीज रोकने की मांग - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

कांग्रेस नेता ने इलेक्शन कमीशन से की पीएम मोदी की बायोपिक की रिलीज रोकने की मांग

narendra modi biopic,pm narendra modi,narendra modi,pm narendra modi biopic,narendra modi movie,pm modi,pm modi biopic,pm narendra modi trailer,vivek oberoi narendra modi biopic,pm narendra modi movie,modi biopic,pm narendra modi movie trailer,pm modi biopic movie,pm narendra modi biopic director,pm narendra modi biopic first look,vivek oberoi as narendra modi,narendra modi biopic movie trailer
जयपुर। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म 'द पीएम मोदी' की रिलीज को लेकर जयपुर के कांग्रेस नेता एवं सामजिक कार्यकर्ता सुरेश मिश्रा ने इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया को पत्र भेजते हुए फिल्म की रिलीज को रोकने की मांग की है। यह फिल्म 5 अप्रैल को पूरे हिंदुस्तान के सिनेमाघरों में लगने वाली है।

सुरेश मिश्रा ने कहा कि लोकसभा चुनावों के समय पर फिल्म ''द पीएम मोदी' को रिलीज़ करना भारतीय जनता पार्टी की एक साजिश है। चूंकि प्रधान मंत्री रूलिंग पार्टी से है, इसीलिए भाजपा फिल्म के जरिये फायदा उठाने की कोशिश कर रही है। पूरे देश में चुनावों के मद्देनजर आचार संहिता लगी हुई है और इस फिल्म के जरिये भाजपा अपना प्रचार करके आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रही है।

फिल्म की रिलीज को रोकने की मांग करते हुए सुरेश मिश्रा ने कहा कि भारत एक लोकतान्त्रिक देश है। हमारे लोकतंत्र की पहचान पूरे विश्वभर में है। जब भी भारत में चुनाव होते है पूरे विश्व की नज़र भारत पर होती है। इस तरह से भारतीय जनता पार्टी फिल्म के माध्यम से प्रचार करके आचार संहिता का उल्लंघन करके भारत के लोकतंत्र का मखौल बना रही है।

मिश्रा ने कहा कि भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्री, स्वतंत्र प्रभार राज्यवर्धन सिंह राठौड़ जो कि लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से जयपुर ग्रामीण सीट से खड़े हुए हैं, उन्होंने अपने पद के प्रभाव का गलत इस्तेमाल करते हुए इस फिल्म को सीबीएफसी से सर्टिफाई कराया और फिल्म को चुनावों के समय में रिलीज़ कराकर फिल्म का फायदा उठाने की कोशिश की है।

मिश्रा ने अपने पत्र में कहा है कि फिल्म के प्रचार के लिए हर जगह पोस्टर्स, बैनर्स, टीवी, अखबार का इस्तेमाल किया जा रहा है। चुनाव आयोग के नियमों के मद्देनज़र ये सब प्रत्याशी द्वारा किये जा रहे चुनाव प्रचार खर्च में शामिल किया जाना चाहिए एवं तत्काल प्रभाव से फिल्म की रिलीज पर रोक लगानी चाहिए।


Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.