दिव्यांग सारथी करवाएंगे दिव्यागंजनों को मतदान - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

दिव्यांग सारथी करवाएंगे दिव्यागंजनों को मतदान

अजमेर। जिला निर्वाचन विभाग ने आगामी 29 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव में दिव्यांगजन को शतप्रतिशत मतदान कराने के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं। जिले में 15180 दिव्यांग मतदाताओं को मतदान कराने के लिए आठो विधानसभा क्षेत्रों में समन्वयक नियुक्त किए गए है। जिले में 1966 मतदान केन्द्रों पर करीब 7000 कर्मचारी व स्काउट दिव्यांग सारथी के रूप में काम करेंगे।
   
जिला निर्वाचन अधिकारी विश्व मोहन शर्मा ने बताया कि दिव्यांगजनों की बूथवार सूची तैयार करवा दी गयी है। यह सूची इस बार मतदान दल अधिकारी के थैले में भी उपलब्ध रहेगी ताकि वे अपने बूथ पर शत प्रतिशत दिव्यांगजनों का मतदान करवा सकें। सभी मतदान केन्द्रों पर रैम्प की व्यवस्था कर दी गयी है।
   
उन्होंने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं का शतप्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने के लिए प्रकोष्ठ का गठन कर जयप्रकाश, उपनिदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को प्रभारी अधिकारी तथा श्री विशाल सोलंकी, सामाजिक सुरक्षा अधिकारी, सहायक प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। इनके साथ आठों  विधानसभा क्षेत्रों के लिए समन्वयक नियुक्त किए गए है।

उन्होंने बताया कि अजमेर जिले में कुल 15180 दिव्यांग मतदाता है। इनमें 8775 अस्थि दिव्यांग है, 1270 दृष्टिबाधित है, 1662 मूक बधिर व अन्य है। जिनको लाने के लिए 1529 आशा सहयोगिनी, 1277 आंगनबाडी कार्यकर्ता तथा 269 महिला अघ्यापिकाओं की विधानसभा क्षेत्रवार ड्यूटी लगायी गयी है। सभी  मतदान केन्द्रों पर 2 स्काउट वोलियेन्टर उपलब्ध रहेंगें, जो कि दिव्यांग सारथी के रूप में मतदान कराने में सहयोग करेंगे। इस बार लोकसभा चुनाव में लगभग 7000 दिव्यांग सारथी दिव्यांगजनों को मतदान कराने में मदद करेंगें। इन सभी दिव्यांग सारथियों को विशिष्ठ बैच प्रदान किये जाऎंगे।

शर्मा ने बताया कि अजमेर जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रें में सर्वाधिक दिव्यांग संख्या वाले मतदान केन्द्रों पर विशिष्ठ छायादार टेन्ट लगाया जायेगा। यहां व्हील चेयर की अतिरिक्त उपलब्धता रहेगी। जहां पर दिव्यांगजन मतदान से पूर्व व पश्चात् बैठ सकते है। उन्होंने बताया कि दिव्यांगजनो को मतदान दिवस पर 15000 टोपियों का वितरण किया जायेगा जिससे दिव्यांग मतदाता धूप से बच सकेगे। साथी ही अधिकतम मतदान हेतु प्रेरित हो सके।

उन्होंने बताया कि मतदान के समय दिव्यांजनो को मतदान कक्ष तक ले जाने के लिये शहरी क्षेत्रें मेें सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा 258 व्हीेल चेयर का वितरण किया गया है तथा ग्रामीण क्षेत्रों में जिला परिषद द्वारा सभी मतदान लोकेशनो पर न्यूनतम प्रत्येक ग्राम पंचायत पर 2 व्हील चेयर की उपलब्धता सुनिश्चित की गयी है, जिससे दिव्यांगजनो को मतदान करने में किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो। सभी दिव्यांग साथियो को अपना इपिक कार्ड साथ लाने हेतु पहचाान पत्र होल्डर / बैच मय गले की डोरी उपलब्ध करवायी जायेगी। मतदान दिवस पर दिव्यांजनो को मतदान करवाने हेतु सभी सहायक रिटर्निग अधिकारी द्वारा रूट चार्ट तैयार कर लिया गया है जिसमें दिव्यांगजनों की मदद करने के दिव्यांग सारथी की ड्यूटी मय मोबाईल नम्बर व वाहन नम्बर के साथ अंकित की गयी है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि दिव्यांगजनों को मतदान के लिए प्रेरित करने हेतु राजस्थान महिला कल्याण मण्डल अजमे, संस्था बाधित विकास समिति बधिर विद्यालय, शुभदा, मां माधुरी ब्रजवारिस सेवा संस्थान, ज्योर्तिगमय सेवा संस्था, संजय एक्ल्यूलेजिस स्कूल दिव्यांग सारथी एवं दिशा संस्था द्वारा सहयोग दिया जाएगा।



Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter

Powered by Blogger.