मित्रता की आज भी मिसाल है कृष्ण सुदामा की मित्रता-जया किशोरी - RNews1 Hindi Khabar

Header Ads

मित्रता की आज भी मिसाल है कृष्ण सुदामा की मित्रता-जया किशोरी

बून्दी (हनुमान गौड़) सच्चे मित्र की पहचान उसके दुख मे मित्र द्वारा साथ देने पर होती है जैसे कृष्ण एक बडे राजा बनने के बाद भी अपने मित्र सुदामा का साथ दिया। आज भी कृष्ण सुदामा मित्रता आज भी एक मिसाल है।  

बाबा खाटूश्याम मंदिर देई पर  मूर्ति एवं प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष मे आयोजित श्रीमदभागवतकथा के सातवे दिन मंगलवार को कृष्ण सुदामा की कथा का वर्णन हुआ इस दोरान यह प्रसंग आया । कथा का  समापन होने से श्रवण करने के लिए बडी संख्या मे  श्रद्धालुओ की भीड उमड पडी। 

कथा पांडाल को बढाने के बाद भी पांडाल मे पांव रखने तक की जगह नही बच सकी। इसलिए लोगो ने खडे होकर कथा का श्रवण किया। । कथा के दोरान अंतरराष्टीय कथा वाचिका जया किशोरी ने  कृष्ण के 16 हजार 108 विवाह की कथा का वर्णन करते हुए सबसे उंची प्रेम सगाई का भजन सुनाकर उपस्थित श्रद्धालुओ को झूमने पर मजबूर कर दिया। 

कथा मे  कृष्ण जामवंत युद्ध व जामवंती विवाह, सत्यभामा व आठ विवाहो के साथ  मुर नामक राक्ष का वधकर 16 हजार 100 विवाहो की कथा सुनाई। कृष्ण सुदामा चरित्र के दोरान आकर्षक झांकी सजाकर वर्णन किया। जिसमे श्रद्धालुओ ने भाव विभोर होकर कथा का पुण्य अर्जित किया । 

कथा श्रवण के लिए बूंदी, कोटा,जयपुर,टोंक,निवाई,सवाईमाधोपुर,उनियारा,कोटपूतली,नैनवां, सहित कई जिलो से श्रद्धालु पहुचे।कथा के दोरान जया किशोरी द्वारा भामाशाहो व श्रेष्ठ कार्य करने वालो को सम्मानित किया। प्राण प्रतिष्ठा व महाप्रसादी वितरण आज कस्बे में निर्माणाधीन  बाबा श्याम के मंदिर मे गुरूवार सुबह दस बजे  बाबा खाटूश्याम,बालाजी,शिव परिवार की मूर्तियो की प्राण प्रतिष्ठा की जायेगी ।दोपहर बारह बजे बाद महाप्रसादी वितरण होगी। जिसमे तीस हजार से ज्यादा संख्या मे श्रद्धालु प्रसादी ग्रहण करेंगे। 

भजनेरी से आएगी निशान यात्रा  खाटूनरेश देई के धाम पर गुरूवार को भजनेरी से प्रथम निशान पदयात्रा पहुचेगी। सुबह दस बजे से निशान के साथ पदयात्री रवाना होकर देई पहुचेंगे। भक्तमाल कथा मे बरसा आनंद  श्याम महोत्सव मे रात्री के समय भक्तमाल कथा मे बाबा चित्र विचित्र महाराज ने बरसाने की होली मे आनंदरस बरसा दिया।  

पुष्पवर्षा के बीच पूरे पांडाल मे होली खेली गई। इस दोरान भजनो के सरिता के बीच उपस्थित श्रद्धालुओ ने जमकर नृत्य किया। कथा मे भक्तो की कथा सुनाई गई। 

Get all updates by Like us on Facebook and Follow on Twitter



Powered by Blogger.